पंचायत चुनाव को लेकर अनुप्रिया पटेल का बड़ा बयान, अकेले चुनाव लड़ेगी पार्टी, इन युवाओं पर दांव लगाएगा अपना दल

वाराणसी. यूपी त्रिस्त्रीय पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) को लेकर राजनीतिक सरगर्मी तेज हो गई है। पंचायत चुनाव की सुगबुगाहट के बीच अपना दल (एस) ने भी अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद अनुप्रिया पटेल ने रविवार को वाराणसी में ऐलान किया कि पंचायत चुनाव में उनकी पार्टी अपने दमखम पर लड़ेगी। अपना दल पंचायत चुनाव में अकेले मैदान में उतरेगी। उन्होंने कोरोना काल के जरिए कार्यकर्ताओं को कम संसाधन में बड़ा लक्ष्य हासिल करने का संदेश दिया।

करो या मरो की नीति से करना होगा काम

वाराणसी के लंका स्थित एक लॉन में आयोजित कार्यक्रम में पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने अपने कार्यकर्ताओं से कहा कि पिछले तीन-चार साल में जो हमने किया है, उसे घर घर तक पहुंचाएं और करो या मरो की नीति से काम करना होगा। उन्होंने कहा कि 2021 में पंचायत चुनाव पार्टी के लिए बड़ी चुनौती है। यगह अपनी कमियों को जानने का अच्छा मौका है। इस सेमीफाइनल में जिले की हर सीट पर आवेदन स्वीकार किया जाएगा। उन्होंने चेतावनी दी कि पार्टी की ओर से प्रत्याशी की घोषणा होने तक कोई भी खुद कोई पहल नहीं करेगा। किसी भी पोस्टर-बैनर में भावी प्रत्याशी नहीं लिखेंगे।

पढ़े लिखे और योग्य कार्यकर्ताओं पर दांव लगाएगी पार्टी

सांसद अनुप्रिया पटेल ने कहा कि पंचायत चुनाव में पार्टी पढ़े लिखे, योग्य और ऊर्जावान कार्यकर्ताओं पर दांव लगाएगी। चुनाव लड़ने के इच्छुक कार्यकर्ता पार्टी कार्यालय से आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं। आवेदन करने वालों को कम से कम 40 सक्रिय सदस्यों की टीम बनानी होगी। जिला कमेटी से चुने हुए नामों पर विचार किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: 2022 विधानसभा चुनाव के पहले सपा की रणनीति, बनाया यह प्लान, खोलेगी योगी सरकार की पोल

ये भी पढ़ें: ग्राम पंचायत चुनाव से पहले विधानसभा महरौनी क्षेत्र को मिली दो नई सौगातें



Advertisement