बिकरू कांड अपडेट - मुठभेड़ में विकास दुबे के करीबी को लगी थी गोली, अदालत तय किए आरोप

कानपुर. चौबेपुर थाना अंतर्गत बिकरू गांव में विगत 2 जुलाई 2020 को पुलिस पर हमला करने में विकास दुबे का सहयोगी दया शंकर अग्निहोत्री पर up जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने आरोप कर दिया है पुलिस पर हमला करने में दया शंकर की भूमिका भी फायदे जिसमें सीओ साहिब 8 पुलिस करनी शहीद हो गए थे। दया शंकर को पुलिस ने दिक्कत 5 जुलाई को मुठभेड़ के दौरान शिवली रोड से गिरफ्तार किया था।

बिकरू कांड के बाद रह रहकर नये खुलासेे हो रहेे हैं। इसी क्रम में घटना में शामिल आरोपी दया शंकर अग्निहोत्री पर न्यायालय ने आरोप तय कर दिया है। गौरतलब है कि दया शंकर अग्निहोत्री विकास दुबे का नौकर और कोटेदार था। जिसे पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया था। पुलिस का आरोप है कि गिरफ्तारी से पहले दया शंकर ने पुलिस टीम पर फायरिंग की जवाबी कार्रवाई में दया शंकर के पैर में गोली लगी और वह घायल हो गया। जिसे उपचार के लिए स्वास्थ्थ केंद्र में भर्ती कराया गया था। मामला अपर जिला एवं सत्र नयायाधीश की अदालत में चल रहा था है। जहां दया शंकर अग्निहोत्री के ऊपर आरोप तय हो गये। इस संबंध में सहायक शासकीय अधिवक्ता भास्कर मिश्रा ने बताया कि मामले की अगली तारीख 18 जनवरी निश्चित की गई है।



Advertisement