भाजपा विधायक और उनके परिवार पर जानलेवा हमला, गाड़ी पर हुआ पथराव, सुरक्षाकर्मी ने बाल-बाल बचाया

सीतापुर. लखीमपुर खीरी के जिले के निघासन विधायक शशांक वर्मा की गाड़ी पर सीतापुर के नैमिषारण्य में पथराव किया गया। इस जानलेवा हमले में विधायक और उनका परिवार बाल बाल बचे। वहीं पुलिस ने विवाद के बाद नैमिषारण्य के दस लोगों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में पुलिस का कहना है कि विधायक शशांक वर्मा अपने परिवार के साथ नैमिषारण्य दर्शन करने गए थे। यहां उनके पिता द्वारा स्थापित ट्रस्ट की जमीन पर कमरे बने हैं। जमीन पर कुछ लोगों द्वारा जबरन सामान रख दिया था, इसी को लेकर हुए विरोध में आरोपियों उनपर और उनके परिवार पर हमला बोल दिया। वहीं विधायक के सुरक्षाकर्मी की तरफ से दी गई तहरीर पर केस दर्ज करके दस लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

विधायक पर जानलेवा हमला

आपको बता दें कि निघासन विधायक शशांक वर्मा अपने परिवार के साथ नैमिषारण्य आए थे। नैमिषारण्य में विधायक के पिता की तरफ से स्थापित लोक कल्याण ट्रस्ट की इमारत बनी है। यहीं कमरे के पास कुछ लोगों ने अपना सामान रख दिया था। विधायक जब रात करीब आठ बजे अपने परिवार के साथ यहां लौटे तो कमरों के बाहर सड़क तक सामान देखा। जब विधायक ने इसका विरोध किया तो, काफी संख्या में वहां लोग जमा हो गए। इसमें कई महिलाएं भी शामिल थीं। सभी ने मिलकर विधायक और उनके परिवार पर पथराव कर दिया। किसी तरह विधायक के सुरक्षाकर्मी ने स्थितियों को संभाला और सभी को बचाया।

10 लोगों को किया गया गिरफ्तार

वहीं बवाल की जानकारी मिलते ही एएसपी एनपी सिंह, सीओ मिश्रिख एमपी सिंह और आसपास के थानों की पुलिस के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों की धरपकड़ शुरू की। एएसपी एनपी सिंह ने बताया कि विधायक के सुरक्षाकर्मी की तहरीर पर जानलेवा हमले के आरोप में केस दर्ज किया गया है। साथ ही नैमिषारण्य के निवासी रामऔतार सहित दस लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। बाकी लोगों की तलाश की जा रही है। फिलहाल स्थितियां पूरी तरह से कंट्रोल में हैं।

यह भी पढ़ें: दो अधिकारियों को बनाया चपरासी और चौकीदार, चला सीएम योगी का हंटर, दो और अफसरों का किया डिमोशन



Advertisement