लड़की का अश्लील वीडियो बनाकर व्यापारी ने किया वायरल, चचेरे भाई ने गोली से उड़ा दी खोपड़ी

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। सरधना में व्यापारी नेता की हत्या का खुलासा आखिरकरा पुलिस ने कर दिया। पुलिस ने दो हत्याभियुक्तों को हाफ एनकाउंटर में गिरफ्तार कर लिया। दोनों हत्याभियुक्तों के पैर में गोली लगी है। पूछताछ में अभियुक्त शादाब ने बताया कि मृतक दीपक पुत्र ओमपाल उसके चाचा की लडकी नाजिया पुत्री नईम की अश्लील वीडियो बनाकर अपने दोस्तों में वायरल कर रहा था। जिसको लेकर वह काफी परेशान कर रहा था। जिसके कारण शादाब द्वारा अपने दोस्तों के साथ प्लान बनाकर दीपक पुत्र ओमपाल को जिम से लौटते वक्त सिर में गोली मारकर हत्या कर दी गई। बता दे कि आरोपी के सिर में तीन गोली मारी गई थी और उसका सिर पूरी तरह फट गया था। थाना सरधना पुलिस द्वारा पुलिस मुठभेड में हत्याभियुक्त को मय अवैध शस्त्र के साथ गिरफ्तार किया है। घायलों को मेडिकल में भर्ती किया गया है।

यह भी पढ़ें: 251 रु में स्मार्टफोन का झांसा देने वाले मास्टर माइंड ने अब मेवे-मसालों के नाम पर की अरबों की ठगी

ये था मामला

गत शनिवार की देर शाम थाना सरधना क्षेत्र में अज्ञात मोटरसाईकिल सवार अभियुक्तगण द्वारा व्यापारी दीपक पुत्र ओमपाल प्रजापति की जिम से वापस लौटते समय गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। जिससे थाना क्षेत्र में जनता मे भय व्याप्त हो गया था। इस घटना से आक्रोशित होकर मृतक के परिवार वालों व जनता द्वारा जाम लगाया गया था। इस मामले में सरधना के विधायक संगीत सोम भी पीडितों के साथ धरने पर बैठे थे। मामले को एसएसपी ने काफी गंभीरता से लिया था और हत्याकांड के खुलासे के लिए 4 टीमें गठित की गयी। घटना के खुलासे के लिए लगायी गयी टीमों के प्रयास से ही थाना सरधना व स्वाट टीम द्वारा घटना का खुलासा किया गया। जिसमें शादाब पुत्र रईस मोहल्ला खवान, समीर पुत्र सलीम मीठा, मयूर पुत्र सलीम मीठा निवासी गण राम तलैया, नदीम उर्फ नड्डू पुत्र यामीन निवासी रामतलैया थाना सरधना जनपद मेरठ के नाम प्रकाश में आये।

यह भी देखें: सपाइयों के दो गुटों में सड़क पर जमकर बवाल

ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे

थाना प्रभारी सरधना को गश्त के दौरान मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि सरधना से दौराला की तरफ से 2 मोटरसाईकिल पर 4 शातिर अभियुक्त जो कि दीपक हत्या में शामिल हैं। सरधना से दौराला के पुल की तरफ आने वाले हैं। इस सूचना पर थाना सरधना व एसओजी टीम मुखबिर को साथ लेकर बदमाशों का इंतजार करने लगे गाड़ी की लाइटों में दो मोटरसाइकिल पर चार व्यक्ति आते नजर आए। जिनको देखकर मुखबिर ने बताया कि यही वह बदमाश है। जिनके द्वारा दीपक की हत्या कर दी गई है। जिनको घेर घोटकर रोकने का प्रयास किया गया तो बदमाशों द्वारा जान से मारने की नियत से पुलिस पार्टी पर फायर कर दिया गया। पुलिस पार्टी द्वारा आत्मरक्षार्थ फायरिंग की गयी। जिसमें शादाब पुत्र रईस व नदीम पुत्र यामीन के पैर में गोली लगने के कारण घायल/गिरफ्तार हो गये। अभियुक्त मयूर व समीर पुत्रगण सलीम उर्फ मिठा को गिरफ्तार किया गया।



Advertisement