राममंदिर निर्माण के लिए लोकसभा संयोजक राजेश अग्रहरि ने किया सवा करोड़ रुपये का दान, ट्रस्ट के सचिव को सौंपा चेक

अमेठी. राममंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए बीजेपी के लोकसभा संयोजक व प्रतिष्ठित व्यापारी राजेश अग्रहरि ने ट्रस्ट के सचिव चंपत राय को सवा करोड़ रूपए दान का एक चेक सौंपा। इस मौके पर राममंदिर ट्रस्ट के सचिव चंपत राय ने बीते दिनों छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में राममंदिर के नाम पर फर्जी ढंग से दान जमा कर रही महिला के विरूद्ध कार्यवाही पर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की प्रशंसा की। उन्होंने प्रशासन के काम की भी तारीफ की।

प्रशासन को लिखा गया पत्र

चंपत राय ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ता और सम विचारी कार्यकर्ता को इस संग्रह के लिए अधिकृत किया गया है। उन्होंने कहा इस संबंध में एक पत्र देश भर के प्रशासन और पुलिस को भी लिखा गया है। अन्य कोई इकट्ठा करे तो इन्हीं कार्यकर्ताओं से कूपन लेकर इकट्ठा करें ताकी भरोसा बना रहे। कौन किससे परिचित है। इसके साथ ही उन्होंने छत्तीसगढ़ के बिलासपुर की भी घटना का जिक्र किया। उन्होंने कहा, ''मैं समाज के बंधुओं से हाथ जोड़कर निवेदन करूंगा के भगवान राम के इस काम में ऐसा गलत काम ना करें।''

बता दें कि बीते दिनों आरएसएस कार्यकर्ताओं ने बिलासपुर में एक महिला को पकड़ा था। उनका आरोप था, महिला रसीद बुक छपवाकर लोगों से राम मंदिर के नाम पर चंदा ले रही है। वह चंदा लेने के लिए अधिकृत नहीं है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, पिछले दिनों बिलासपुर में एक महिला के खिलाफ एफआईआर हुई। वह अनाधिकृत तौर पर रसीद छपवाकर चंदा ले रही थी। इसके बाद मुख्यमंत्री बघेल ने कहा, इसीलिए श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए बने ट्रस्ट से जानकारी मांगी गई है कि छत्तीसगढ़ में उनकी ओर से चंदा लेने के लिए किसे अधिकृत किया गया है। अनाधिकृत व्यक्ति चंदा नहीं ले सकता। संबंधित के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी।

ये भी पढ़ें: सुंदरीकरण से तैयार हो रहे वाराणसी के घाट, खुदाई के दौरान मिला सैकड़ों वर्ष पुराना शिवलिंग

ये भी पढ़ें: पंचायत चुनाव से पहले हुआ बहिष्कार का ऐलान, इस गांव के लोगों ने कहा नहीं डालेंगे वोट