बर्ड फ्लू से बचने के उपाय, क्या करें, क्या न करें

लखनऊ. यूपी में लगातार पक्षियों के मरने की खबर के बाद से योगी सरकार अलर्ट हो गई है। बर्ड फ्लू को लेकर यूपी की जनता को जागरूक किया जा रहा है। सरकार ने भी बर्ड फ्लू से बचाव के उपाय बताएं हैं। जिसमें बताया गया है कि बर्ड फ्लू से बचने के लिए क्या करें और क्या न करें।

ये लक्षण है तो अलर्ट हो जाएं हो सकता है बर्ड फ्लू, यूपी में एडवाइज़री जारी

बर्ड फ्लू से पैदा होने वाली स्थिति से निपटने के लिए राज्यस्तरीय टास्क फोर्स की वर्चुअल बैठक में मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने निर्देश जारी करते हुए कहाकि, सूचना विभाग के माध्यम से बर्ड फ्लू को लेकर जनमानस को जागरूक किया जाए। जिससे सुरक्षात्मक कदम तत्काल उठाए जा सकें इसके लिए सभी संबंधित विभाग तैयारियों के संबंध में जानकारी दें। मुख्य सचिव ने कहा कि मृत पक्षियों की सूचना आपातकालीन नंबर व मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर दी जा सकती है।

बर्ड फ्लू से बचाव के उपाय में क्या करें :-

1. मृत पक्षी की सूचना तत्काल जिला स्तरीय कोविड कंट्रोल रूम या पशुपालन निदेशालय पर स्थापित कंट्रोल रूम के फोन नंबर 0522-2741991-92, या टोल फ्री नंबर 18001804151 पर दें। पशुपालन निदेशालय स्थापति कंट्रोल रूम 24 घंटे खुला रहता है।
2. अच्छी तरह पकाए गए कुक्कुट या अंडे आदि से बर्ड फ्लू नहीं होता है। इसलिए कुक्कुट या कुक्कुट उत्पाद को अच्छी तरह पका कर ही खाएं। यह वायरस 70 डिग्री सेंटीग्रेट पर स्वत: ही समाप्त हो जाता है।
3. कुक्कुट पक्षियों के पालने के स्थान/फार्म के आस-पास जैव सुरक्षा, साफ-सफाई और डिसइन्फेक्शन करें।
4. पक्षियों को हैंडल करने के पश्चात एंटीसैप्टिक लोशन से हाथ को अच्छी तरह से धोएं।
5. बर्ड फ्लू से संक्रमित पक्षियों के संपर्क में आने पर चिकित्सक की सलाह पर दवा खाएं।

बर्ड फ्लू से बचाव के उपाय में क्या न करें :-
1. मृत पक्षी को छुए नहीं।
2. अफवाहों पर ध्यान न दें।
3.जिन क्षेत्रों में बर्ड फ्लू की सूचना प्राप्त हो उसके आसपास भ्रमण न करें।
4. संक्रमित पक्षियों को सीधे सीधे संपर्क में आने से बचें तथा उनको हाथों से दाना आदि न खिलाएं।
5. कुक्कुट या अन्य पक्षियों को खुले वाहनों में परिवहन न करें।



Advertisement