ओवैसी ने दिया विवादित बयान, कहा की अयोध्या के मस्जिद में नामाज पढ़ना ‘हराम’

एआईएमआईएम के मुखिया और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने अयोध्या में बनने वाली मस्जिद को लेकर विवादित बयान दिया है.ओवैसी ने कहा है कि अगर कोई अयोध्या में 5 एकड़ जमीन पर बन रही मस्जिद में नमाज पढ़ता है. तो वह हराम मानी जायेगी. ओवैसी के इस बयान पर मस्जिद ट्रस्ट के सचिव और इंडो इस्लामिक कल्चरल फाउन्डेशन के अतहर हुसैन समेत कई मुस्लिम धर्मगुरुओं ने अपनी नाराजगी जाहिर की है. टाइम्स आफ इंडिया की खबर के मुताबिक, कर्नाटक के बीदर इलाके में ‘सेव कांस्टीट्यूशन सेव इंडिया के कार्यक्रम’ को संबोधित करते हुए. ओवैसी ने कहा कि अयोध्या के धनीपुर में बनने वाली मस्जिद इस्लाम के सिधान्तो के खिलाफ है. इसलिए उसे मस्जिद नहीं कहा जा सकता. ओवैसी ने यह भी कहा कि मस्जिद के निर्माण के लिए डोनेसन देना औए वहां नमाज पढ़ना दोनों ही हराम है.

मस्जिद को लेकर ओवैसी के बयान की मुस्लिम पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने निंदा की है. वही तपस्या छावनी के महंत परमहंस ने ओवैसी को गद्दार बताया है. इकबाल ने कहा है कि ” जो पाँच एकड़ जमीन मिली है उसमे मस्जिद बन रही है. स्कूल व अस्पताल बन रहा है. सुप्रीम कोर्ट ने जो आदेश कर दिया है. वह काम हो रहा है उसको होने दें. अब सारे विवाद खत्म हो चुके है हिन्दू मुसलमानों में एकता है.” वही तपस्वी छावनी के महंत परमहंस ने ओवैसी को गद्दार बताते हुए कहा, ” एक तरफ मंदिर बन रहा है तो दूसरी तरफ अयोध्या में मस्जिद भी बन रही है. उन्होंने कहा की अयोध्या में सदभाव की नीव मजबूत हो रही है. ओवैसी नफरत फैलाने का काम कर रहे है. उनका यह बयान सुप्रीम कोर्ट की अवमानना है.