सपा के बाद अब कांग्रेस नेता ने वैक्सीन को लेकर छोड़ा नया शिगूफा, बोले पहले ‘पीएम मोदी और भाजपा नेता…’

पूरी दुनिया के वैज्ञानिक, डॉक्टर और सरकारें कोशिश कर रही है कोरोना का वैक्सीन जल्द से जल्द लाने के लिए ताकि दुनिया को इस वायरस से निजात मिल सके. लेकिन भारत संभवतः दुनिया का एकलौता ऐसा देश है जहाँ वैक्सीन को लेकर भी राजनीति की जा रही है और वैक्सीन को किसी पार्टी विशेष का बताया जा रहा है. इसकी शुरुआत समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने की. उन्होंने वैक्सीन को भाजपा का वैक्सीन बता दिया. उनकी पार्टी के एक MLC ने तो वैक्सीन को केंद्र सरकार की साजिश करार दे दिया. उनका तर्क था कि वैक्सीन के जरिये केंद्र सरकार जनसँख्या कम करने और नपुंसक बनाने की साजिश कर सकती है. विरोध के स्वर उठाने वालों में कांग्रेस भी शामिल हो गई. वैसे भी कांग्रेस का मुख्य काम अब सिर्फ विरोध करना ही रह गया है और ये कर के वो जनता की नज़रों से कितनी उतर चुकी है ये बताने की जरूरत नहीं.

अब बिहार कांग्रेस नेता अजीत शर्मा ने कोरोना वैक्सीन को लेकर एक नया शिगूफा छोड़ दिया है. अजीत शर्मा का कहना है कि ये वैक्सीन जो आई है उसको पहले पीएम मोदी और भाजपा के नेता लगवायें. बिहार कांग्रेस नेता अजीत शर्मा ने अमेरिका और रूस का उदाहरण देते हुए कहा है कि वहां पर वैक्सीन पहले राष्ट्रपति ने लगवाई है. ठीक उसी तरह से यहां पहले ये वैक्सीन पीएम मोदी लगवायें.

अजीत शर्मा ने तब हद कर दी जब उन्होने कहा कि वैक्सीन का क्रेडिट कांग्रेस पार्टी को भी मिलना चाहिए. उन्होने आरोप लगाया कि भाजपा अकेले इसका क्रेडिट लेना चाहती है. इतना ही नही अतीज शर्मा ने कहा कि जिन कंपनियों ने वैक्सीन बनाई है उसको कांग्रेस के ज़माने में स्थापित किया गया था. इस बात से समझ आ गया की कांग्रेस की मानसिक स्थिति क्या हो चुकि है.



Advertisement