सुहागरात पर दूल्हे का ऐसा रूप देख दुल्हन ने साथ रहने से किया इनकार, बोली- नहीं जाऊंगी ससुराल

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद। जनपद में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें शादी के लिए लड़की को कोई लड़का दिखाया गया और बारात लेकर दूसरा लड़का पहुंच गया। लड़की ने शादी करने से इनकार किया, लेकिन परिजनों की माली हालत खराब होने के चलते वहां मौजूद सभी लोगों ने लड़की को समझाकर शादी के लिए तैयार कर लिया। आरोप है कि जब लड़की दुल्हन बनकर अपनी ससुराल पहुंची तो दूल्हा सुहागरात पर ही नशे में धुत होकर आ गया। जिसे देखकर दुल्हन घबरा गई। इतना ही नहीं, जो लड़का उसे पहले शादी के लिए दिखाया गया था, अब वह उसका देवर है। आरोप है कि जब दुल्हन ने ससुराल में रहने से इनकार किया तो उसकी सास ने जबरन उसे देवर से संबंध बनाने के लिए मजबूर किया और विरोध करने पर मारपीट की। फिलहाल दुल्हन ने इस पूरे मामले को लेकर गाजियाबाद न्यायालय का दरवाजा खटखटाया है।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने अभियान चलाकर गांव-गांव कराई मुनादी, 50 से अधिक को किया गिरफ्तार

इस मामले की पूरी जानकारी देते हुए पीड़िता ने बताया कि उसे शादी से पहले दर्शन नाम के दूसरे लड़के को दिखाया गया था। जिसके बाद दोनों ने ही आपस में पसंद किया। दोनों की सहमति बनने के बाद 21 जनवरी सन् 2020 को जब लड़की के दरवाजे पर बारात पहुंची तो दूल्हा दूसरा यानी दर्शन का बड़ा भाई गौरव था। जिसे देखकर लड़की व उसके परिजन आश्चर्य में पड़ गए और इस शादी से इनकार किया। लेकिन वहां मौजूद लोगों ने उस वक्त लड़की और उसके परिजनों को काफी समझाया और यह शादी होने दी। आरोप है कि वह सुहागरात पर अपने पति का इंतजार कर रही थी तो देर रात नशे में धुत पति उसके कमरे में आया। घर में अन्य लोगों के द्वारा भी जब उस लड़के के बारे में बात सुनी तो वह हैरान रह गई और यह बात पीड़िता ने अपने परिजनों को बताई।

यह भी देखें: अनियंत्रित डीसीएम ने स्कूटी सवार दो बुजुर्गों को रौंदा

पीड़िता का आरोप है कि जब उसने ससुराल में नशेड़ी लड़के के साथ रहने के लिए मना किया तो उसकी सास ने जबरन उसके देवर (यानी जो लड़का पहले दिखाया था) दर्शन के साथ संबंध बनाए जाने पर जोर दिया और सास ने साफ तौर पर कहा कि यदि गौरव के साथ नहीं रहना चाहती तो दर्शन के साथ ही अब रह लो। इसका विरोध पीड़िता ने किया तो उसके साथ मारपीट भी की गई। जिसके बाद लड़की अपने घर पहुंची और ससुराल जाने के लिए साफ तौर पर मना कर दिया और इन सभी लोगों के खिलाफ थाने में तहरीर दी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए अग्रिम कार्रवाई शुरू कर दी है। उधर पीड़िता ने अब न्यायालय का दरवाजा भी खटखटाया है। वहीं इस पूरे मामले में पीड़िता के वकील मनोज राय का कहना है कि उनकी मुवक्किल के साथ उसकी ससुराल वालों ने शुरू से ही छल किया है। जिसका मामला दर्ज कराते हुए अब गाजियाबाद न्यायालय में पूरा मामला विचाराधीन है। इस पूरे मामले में जो भी दोषी पाए जाएं उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।



Advertisement