Covid New Strain: भारत में तेजी से बढ़ रहा कोरोना का नया स्ट्रेन, इस शहर में मिले सबसे अधिक केस

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। यूके के आए कोरोना के स्ट्रेन—2 के मेरठ में रोज नए मरीज मिल रहे हैं। बुधवार को फिर स्ट्रेन-2 के छह नए मरीज मिले। इसके बाद स्ट्रेन-2 के मरीजों की संख्या मेरठ में 15 हो चुकी है। ब्रिटेन से आया कोरोना का नया स्ट्रेन मेरठ में तेजी से पैर पसार रहा है। प्रदेश ही नहीं देश में भी इस स्ट्रेन के सर्वाधिक मरीज मेरठ में मिले हैं। इससे देश और प्रदेश की राजधानी तक हड़कंप मच गया है। बता दें कि 23 दिसम्बर से अब तक जिले में स्ट्रेन-2 के 15 मरीज मिल चुके हैं। जो प्रदेश में सर्वाधिक हैं। सीएमओ डॉ. अखिलेश मोहन का कहना है कि नई दिल्ली से जीनोम सिक्वेंसिंग की रिपोर्ट आ गयी है। जिसमें छह नए मरीज होने की पुष्टि हुई है।

यह भी पढ़ें: सपनों का आशियाना बनाने से पहले पढ़ लें ये खबर, नहीं तो पड़ेगा पछताना

संत बिहार के बलवंत इन्क्लेव में स्ट्रेन—2 का खतरा

संत विहार में अब तक तीन और बलवंत इन्क्लेव में छह लोग संक्रमित पाए गए थे। इसी बीच, बलवंत इन्क्लेव छह और लोगों की जांच भेजी गई थी। बुधवार को जारी रिपोर्ट के मुताबिक इन सभी सैम्पलों में ब्रिटेन में मिला कोरोना का स्ट्रेन-2 पाया गया। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी मरीजों को मेडिकल कॉलेज और निजी अस्पतालों में दाखिल करने का निर्णय किया है। उन्हें आइसोलेटेड वार्ड में रखा जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमित लोगों के संपर्क में आये लोगों के बारे में जानकारी जुटाना शुरू कर दिया है। कई अन्य संक्रमित इलाकों को भी सील किया जाएगा।

यह भी देखें: कृषि कानून के विरोध में सपा का बैलगाड़ी रैली

पूरा इलाका किया सील

कोरोना के नए स्‍ट्रेन मिलने के बाद से अब पूरा इलाका सील कर दिया गया है। बलवंत इन्क्लेव और संत विहार को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। अभी पुराने मरीज ठीक भी नहीं हुए कि मेरठ में कोरोना का नया स्‍ट्रेन कहर मचाना शुरू कर दिया। भेजे गए छह लोगों के सैंपल रिपोर्ट में यूके वाले स्‍ट्रेन का संक्रमण मिलते ही मेरठ में हड़कंप मच गया। पुलिस और प्रशासन ने मिलकर इन इलाकों को सील करवा दिया। हालाकि अभी इनके संक्रमण में आए लोगों की पहचान नहीं हुई है। प्रशासन इनके संपर्क में आए लोगों की पहचान में लगा है। इनका भी आरटीपीसीआर टेस्‍ट करवा कर रिपोर्ट लैब भेजा जाएगा। पिछले दिनों दो साल की मासूम में मिले संक्रमण ने शहर में हलचल मचा रखी थी। इसके बाद चार लोगों में संक्रमण मिला। इन चार लोगों की जब जांच पड़ताल की गई तो संपर्क में आए चार और में इसका संक्रमण देखा गया। अब छह लोगों में संक्रमण मिलने से कुल संख्‍या 15 पहुंच गई है। जो कि मेरठ में नए स्‍ट्रेन का खतरा बढ़ता ही जा रहा है।



Advertisement