Weather Alert: कोहरे और बर्फीली हवाओं की चपेट में उत्तर प्रदेश, कई जिलों में तापमान 0 डिग्री

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। नववर्ष शुरू होने के साथ ही मेरठ सहित वेस्ट के सभी जिले जबरदस्त शीत लहर और कोहरे की चपेट में है। तापमान सामान्य से 4 डिग्री नीचे चला गया है। मौसम विभाग के अनुसार अगर यही हाल रहा तो तापमान शून्य का आंकड़ा भी छू सकता है। हालात यह हैं कि लोग ठंड से बचने के लिए अलाव का सहारा ले रहे हैं। दरअसल, मेरठ समेत पश्चिम उप्र के जिले मुजफ्फरनगर, सहारनपुर,शामली, हापुड , बिजनौर, गाजियाबाद,नोएडा और मुरादाबाद में शीतलहर से कंपकंपाते हाथों और घने कोहरे के साथ नए साल की शुरुआत हुई है।

यह भी पढ़ें: साल के अंतिम दिन मसूरी से भी ठंडा रहा सहारनपुर, शून्य डिग्री पर पहुंचा पारा

मौसम विभाग के अनुसार पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी से मैदानी इलाकों में गलन भरी ठंड पड़ रही है। बर्फबारी के कारण बर्फीली हवा चल रही है, इसके कारण फिजा में घुली गलन से ठिठुरन भरी सर्दी का एहसास हो रहा है। उत्तर भारत के अनेक इलाकों में जबर्दस्त शीतलहर चल रही है और कई क्षेत्र घने कोहरे की आगोश में हैं। पश्चिम उप्र ही नहीं बल्कि उत्तर भारत के एक बड़े हिस्से में सुबह घना कोहरा छाया रहा और कई इलाकों में तापमान शून्य डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया। शीतलहर और गलन से लोग बेहाल हैं।

यह भी देखें: पटवारी का रिश्वत लेते हुए वीडियो वायरल

मेरठ में सुबह घना कोहरा छाए रहने से दृश्यता घटकर महज 5 मीटर रह गई है। विजिबिलिटी पॉवर कई इलाकों में इससे भी कम तक पहुंच गई। जिले के समस्त इलाके पर सुबह घना कोहरा दिखाई दिया है। दिन के समय भी लोग अपनी गाड़ियों की लाइटें जलाकर सड़कों पर चल रहे हैं। मौसम विभाग के मुताबिक, शुक्रवार का रिकॉर्ड न्यूनतम तापमान 3.1 दर्ज किया गया है। इससे पहले गुरुवार को मेरठ में न्यूनतम तापमान भी 363 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच चुका है, जो इस मौसम का सबसे कम तापमान था। वहीं सर्दी के साथ मेरठ में प्रदूषण का स्तर भी बेहद खराब श्रेणी में बना हुआ है। सुबह मेरठ में पीएम 2.5 380 तक पहुंच गया।