10 लाख से ज्यादा टीकाकरण करने वाला यूपी बना देश का पहला राज्य, 47 जिलों में नहीं मिला करोना का एक भी मरीज

बाराबंकी. यूपी में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार कम हो रही है। बृहस्पतिवार को 75 में से 28 जिलों में ही मरीज मिले हैं। 47 जिलों में एक भी मरीज नहीं सामने आया है। श्रावस्ती में लगातार सातवें दिन एक भी मरीज नहीं मिला है। सबसे ज्यादा गौतमबुद्ध नगर में 19 मरीज मिले। बुधवार को वहां 5 मरीज थे। इसके अलावा बृहस्पतिवार को लखनऊ, प्रयागराज में 8-8, बस्ती 7, गाजियाबाद में 6, मेरठ, बरेली, हापुड़ में 3-3, कानपुर नगर, गोरखपुर, आगरा, फर्रुखाबाद में 2-2, कौशांबी, संभल, संतकबीर नगर, बांदा, फिरोजाबाद, अमरोहा, बिजनौर, सीतापुर, सोनभद्र, गाजीपुर, इटावा, प्रतापगढ़, बुलंदशहर, शाहजहांपुर, अयोध्या, वाराणसी में 1-1 मरीज मिला।

10 लाख से ज्यादा लोगों का वैक्सीनेशन

कोरोना वायरस के खात्मे को लेकर चलाए जा रहे अभियान के छठवें चरण के अंतर्गत बाराबंकी में एसडीएम, तहसीलदार, पुलिसकर्मियों समेत कई अधिकारियों और कर्मचारियों ने बूथों पर पहुंचकर कोरोना का टीका लगवाया। इस दौरान 2973 कोरोना योद्धाओं का टीकाकरण कर कोरोना से बचाव के लिए प्रतिरक्षित किया गया। इस दौरान फ्रंटलाइन वर्करों समेत सभी ने टीकाकरण को लेकर उत्साह दिखाया। वहीं यूपी 10 लाख से अधिक कोरोना टीकाकरण वाला देश का पहला राज्य बन गया है। इसके अलावा अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बृहस्पतिवार को बताया कि यूपी देश में 03 करोड़ से अधिक जांच करने वाला पहला राज्य बन गया है।

2973 कोरोना योद्धाओं को लगा टीका

दरअसल शासन से प्राप्त निर्देशों के क्रम में बाराबंकी जिले के राजस्व विभाग, पुलिस विभाग, पीएसी, होमगार्ड विभाग और पंचायतीराज विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों का जिला पुरुष चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय और जनपद के ब्लाक स्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों समेत कुल 18 केंद्रों पर टीकाकरण किया गया। इन सभी विभागों को मिलाकर कुल 3932 कर्मचारियों को कोरोना का टीका लगाये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था, जिसके सापेक्ष 2973 कोरोना योद्धाओं को टीका लगाया गया।

टीका लगवाने के बाद नहीं होती कोई दिक्कत

वहीं इस दौरान बाराबंकी के सीएमएस डा. एसके सिंह ने जिला अस्पताल में टीकाकरण का जायजा लिया और मौके पर मौजूद कर्मियों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित किया। इसके अलावा बूथों पर पहुंचे विभिन्न विभाग के अधिकारियों ने लोगों का उत्साहवर्दन किया। वहीं टीकाकरण के बाद लोगों ने कहा कि टीका लगवाने के बाद हम लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं है। सभी को अपनी बारी आने पर कोरोना की वैक्सीन लगवानी चाहिये।

यह भी पढ़ें: सीएम योगी का चला हंटर, दो IAS समेत 11 अधिकारियों के खिलाफ केस दर्ज, एक IPS की भी बढ़ी मुसीबत