10 लाख रुपये के लिए दोस्त ने किया दोस्त का कत्ल, पत्नी ने की फांसी की मांग

अमेठी. पैसे के लेन देन को लेकर उपजे विवाद में एक दोस्त ने साथी दोस्त को मार दिया। मामला जामो थाना क्षेत्र के कस्बे का है। मृतक डॉक्टर जयकरन प्रजापति (40) तीन दिन पूर्व लापता हो गए थे। शनिवार को पुलिस ने जगदीशपुर थाना क्षेत्र के मरौचा के जंगल से डॉक्टर की बाइक आदि सामान मिला था। मृतक डॉक्टर के पिता गंगा राम ने बताया कि बेटे पर आरोपियों ने जहां-जहां सरिया से हमला किया था पुलिस ने उस स्थान को चिंहित किया। फिर जहां लाश को जलाकर दफनाया था उसके ऊपर आम का पेड़ लगा दिया था। पुलिस ने खुदवा कर शव निकलवाया तो शव जला मिला। मृतक की पत्नी विमला देवी ने बताया की 10 लाख रूपए पति ने उधार दिए थे। उसे वापस मांगने पर दोस्तों ने मार डाला। पत्नी ने पति के हत्यारों को फांसी देने की मांग की है।

एसपी दिनेश सिंह ने बताया कि 12 फरवरी को जय करण प्रजापति निकले थे। अगले दिन परिजनों ने गुमशुदगी दर्ज कराई तब से एसओजी और सर्विलांस टीम खुलासे के लिए लगी थी। उनकी मोटर साइकिल और मोबाइल कादू नाला के पास मिली तो हमारी टीम और सक्रिय हो गई। शाम को ही हमने आरोपी आशीष दुबे को गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने बताया की मृतक डाक्टर चिटफंड कमेटी चलाता था। उसमें आशीष का पैसा भी लगा था। आशीष चाहता था इस बार का पैसा उसे मिले। जबकि डॉक्टर उसका पैसा नहीं निकलने दे रहे थे। इस पर आशीष ने अपने बहनोई संतोष कुमार तिवारी के साथ मिलकर योजना बद्ध ढंग से डाक्टर को अपने घर बुलाया और लोहे की रॉड से सर पर प्रहार करके उनकी हत्या कर दी। घर से थोड़ी दूरी पर एक गड्ढा खोदकर इनके शव को दफनाया गया। शव को बरामद कर लिया गया है और दोनो आरोपियों की गिरफतारी कर ली गई है।