शहीद स्मारक के 20वें स्थापना दिवस पर पहुंचे एयर चीफ मार्शल, शहीदों को इस तरह दी श्रद्धांजलि

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नोएडा। शहर की पहचान बन चुके शहीदों की याद का प्रतीक नोएडा शहीद स्‍मारक के 20वें स्थापना दिवस पर आयोजित एक समारोह में देश की रक्षा करते हुए शहीद हुए जांबाजों को श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित हुए एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएम, एडीसी, चीफ ऑफ द एयर स्टाफ ने शहीदों के स्मारक पर पुष्पचक्र चढ़ाकर शहीदो को सलामी दी और दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर नेवी और एयरफोर्स के शीर्ष अधिकारी भी शहीदों के स्‍मरक पर पुष्‍प चक्र चढाकर सलामी दी। इसके साथ ही वार्षिक न्यूजलेटर का विमोचन किया गया।

यह भी पढ़ें: गाजीपुर बॉर्डर पर किसानाें की दुर्दशा दिखाती प्रतिमाएं बना रहे उड़ीसा के कलाकार

दरअसल, नोएडा के हृदय में बसा नोएडा शहीद स्‍मारक देश का एक मात्र ऐसा शहीद स्‍मारक है, जिसे नोएडावासियो ने अपने शहीदों के यादगार के लिए बनाया है। ये आज नोएडा का लैंडमार्क बन चुका है। स्मारक शहर के लोगों के लिए प्रेरणादायक स्थल बना हुआ है। इसके स्‍थापना दिवस के लिए आयोजित में समारोह सुबह 10 बजे एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया पीवीएसएम, एवीएसएम, वीएम, एडीसी, चीफ ऑफ द एयर स्टाफ ने शहीदों के स्मारक पर पुष्पचक्र चढ़ाकर शहीदो को सलामी दी और दो मिनट का मौन रखकर श्रध्‍दांजली दी।

इसके बाद इस अवसर पर मेजर जनरल आलोक कक्कड़ सीओएस दिल्ली एरिया, मेजर जनरल वीके जौहर वीएसएम एडीजी (एडीबी) और रीयर एडमिरल आईबी उथाई वीएसएम एडीजी टेक्निकल सी-वर्ल्ड ने, सेना और नौसेना की तरफ से शहीदों को पुष्प चक्र से चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी। नोएडा के 38 शहीदों के परिवारों ने देश की रक्षा में शहीद हुए अपने प्रिय जनों को फूल चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी। युवाओं की तरफ से आर्मी पब्लिक स्कूल के छात्र कुछ शर्मा और कमर रुद्राक्ष में शहीदों को श्रद्धांजलि दी। जबकि देश के लिए जान कुर्बान करने वाले अज्ञात शहीदो को भी याद किया गया और उनकी याद में पुष्प चक्र चढ़ाकर श्रद्धांजलि दी गई।

यह भी देखें: कांग्रेसियों ने इस अनोखे ढंग से किया प्रदर्शन

श्रद्धांजलि समारोह के बाद एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने संस्था के वार्षिक न्यूजलेटर का विमोचन किया। इस अवसर पर देश के लिए शहीद हुए को याद करते हुए कहा की उनकी कुर्बानी की वजह हम आज़ाद देश में रह रहे है। नोएडा शहीद स्मारक तारीफ करते हुए कहा कि ये आज नोएडा का लैंडमार्क बन चुका है। इसको जीवंत बनाए रखना जरूरी है। स्मारक शहर के लोगों के लिए प्रेरणादायक स्थल बना हुआ है।उन्होने इस अवसर पर शहीदो के परिवार वालो से मुलाक़ात की और उपहार दिये।