संत रविदास के बताए रास्ते पर केंद व राज्य सरकारें चलें तभी समाज व देश का भला : मायावती

लखनऊ. पूरे यूपी में संत रविदास जयंती मनाई जा रही है। आज समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव व कांग्रेस महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी संत रविदास जन्म स्थल काशी में उनके मंदिर जाकर शीश नवाएंगे। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने इस अवसर पर कहाकि, ’मन चंगा तो कठौती में गंगा’ का अमर मानवतावादी संदेश देने वाले महान संतगुरु रविदास जी की जयन्ती पर उन्हें शत्-शत् नमन व देश व दुनिया में रहने वाले उनके करोड़ों अनुयाईयों को हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं। संतगुरु ने अपना सारा जीवन आदमी को इन्सान बनाने के प्रयास में गुज़ारा।

मौसम विभाग का 28 फरवरी के लिए एक बड़ा अलर्ट

बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने शनिवार को अपने ट्विट पर लिखा कि, बीएसपी की यूपी में चार बार बनी सरकार में संतगुरु रविदासजी के सपनों को साकार करने का भरसक प्रयास हुआ व उनके सम्मान में जो जनहित व जनकल्याण का काम यहां किया गया, वह किसी से छिपा नहीं है। केन्द्र व राज्य सरकारें उनके बताए रास्ते पर चलकर समाज व देश का भला करें तो यह उचित होगा।

रविदास जयंती आज :- माघ पूर्णिमा 27 फरवरी, शनिवार आज रविदास जयंती है। माना जाता है कि संत रविदास का जन्म काशी में हुआ था। इन्हें संत रैदास और भगत रविदास जी के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू पंचांग के अनुसार, गुरु रविदास जी का जन्म माघ माह की पूर्णिमा तिथि को वर्ष 1398 में हुआ था। कहा जाता है कि जिस दिन रविदास जी का जन्म हुआ था उस दिन रविवार था। इसी के चलते इनका नाम रविदास पड़ा।