उन्नाव असोहा बबुरिहा कांड - पीएम रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि नहीं, हुआ अंतिम संस्कार

उन्नाव. असोहा थाना क्षेत्र के गांव बबुरहा में हुई हृदय विदारक घटना में शामिल दोनों मृतक किशोरियों का आज अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके पर भारी संख्या में पुलिस बलों को लगाया गया था। भीड़ को रोकने के लिए विशेष निर्देश दिए गए थे। इसके पूर्व आईजी लक्ष्मी सिंह रीजेंसी में उपचार करा रही किशोरी को देखने के लिए पहुंची। उनके साथ किशोरी की मां भाभी भी थी। वहीं चर्चा इस बात की हैै पुलिस खुलासा के नजदीक पहुंच गई है और आज घटना का खुलासा कर सकती है

असोहा थाना क्षेत्र के बबुरहा गांव में हुई हृदय विदारक घटना में शामिल मृतक किशोरी का अंतिम संस्कार किया गया। इस मौके पर मृतक किशोरियों के परिजन मौजूद थे। बड़ी संख्या में पुलिस बल को लगाया गया था। उल्लेखनीय है विगत 17 फरवरी को थाना क्षेत्र गांव बबुरहा में दो किशोरियों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। दो किशोरियों की मौत की खबर जंगल में आग की तरह फैल गई। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में जहरीला पदार्थ खाने से मौत की पुष्टि हो रही है। प्रथम दृष्टया रेप पुष्टि नहीं हुई है। पैनल के डॉक्टर ने स्लाइड बनाई है। शरीर में किसी प्रकार के चोट का निशान नहीं पाया गया।

 

खुलासे के नजदीक पुलिस

घटना के खुलासे के लिए पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। डॉग स्क्वायड को भी लगातार सक्रिय रखा जा रहा है। विगत बृहस्पतिवार को भी डॉग स्क्वायड को घटनास्थल सहित विभिन्न क्षेत्रों में ले जाया गया फॉरेंसिक टीम के साथ घटना का खुलासा 6 टीमों का गठन किया गया है। गांव वालों का एक ही कहना है कि उनकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर किस ने यह कदम उठाया है।