सपा नेता अनिल यादव की पत्नी पंखुड़ी पाठक पर पार्टी के ही नेताओं ने कर दी अभद्र टिप्पणी, आहत पति ने पार्टी से दे दिया इस्तीफ़ा

राजनीति की वजह से पति और पत्नी के बीच मतभेद के किस्से कई बार सुनने को मिलते हैं, कई बार रिश्ते में अलगाव भी देखने को मिल जाता है. लेकिन पत्नी के सम्मान की खातिर अपनी ही पार्टी से इस्तीफ़ा देने के किस्से विरले ही सुनने को मिलते हैं. उत्तर प्रदेश की राजनीति में ऐसे ही एक किस्से ने तहलका मचा रखा है. मामला है समाजवादी पार्टी के पूर्व नेता अनिल यादव और उनकी कांग्रेसी पत्नी पंखुड़ी पाठक से जुड़ा. अनिल यादव ने समाजवादी पार्टी से इसलिए इस्तीफ़ा दे दिया क्योंकि उनकी पत्नी पर पार्टी के ही कुछ नेता अभद्र टिप्पणी कर रहे थे.

मामला दरअसल ये है कि पिछले दिनों अखिलेश यादव की एक तस्वीर वायरल हुई थी. जौनपुर में पुलिस हिरासत में एक युवक की मौ’त हो गई थी. जिसकेबाद सपा सुप्रीमों अखिलेश यादव मृतक के परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे थे. उनकी स्तवागत के लिए गद्देदार कुर्सी, नाश्ते के पैकेट और बिसलेरी की बोतल का इंतजाम किया गया था. पीड़ित परिवार तो जमीन पर बैठा था और अखिलेश यादव शाही अंदाज में गद्देदार कुर्सी पर. टेबल पर नाश्ते के पैकेट और बिसलेरी के बोतल रखे थे. ये तस्वीर वायरल हो गई और अखिलेश यादव की खूब किरकिरी हुई. कांग्रेस के राष्ट्रीय सोशल मीडिया समन्वयक सरल पटेल ने इस फोटो को ट्वीट किया, जिसे पंखुड़ी पाठक की तरफ से भी ट्वीट किया गया. पंखुड़ी पाठक सपा नेता अनिल यादव की पत्नी हैं और यूपी कांग्रेस कमिटी की सोशल मीडिया विंग की उपाध्यक्ष हैं. उसके बाद सपा नेताओं की तरफ से पंखुड़ी पाठक पर अभद्र टिप्पणी कर दी गई. क्योंकि उनके सपा सुप्रीमों पर तंज कसा था.

यहीं से बात बिगड़ गई और पंखुड़ी पाठक के पति अनिल यादव ने ट्विटर पर पार्टी से इस्तीफे का ऐलान कर दिया. अनिल यादव ने लिखा, ‘जिस पार्टी में अपने घर की महिलाओं के सम्मान की अपेक्षा नहीं कर सकते उससे सर्वसमाज के सम्मान व उत्थान की क्या उम्मीद रखें?. अनिल यादव ने ट्विटर पर एक वीडियो भी शेयर किया है. इसमें उन्होंने कहा है कि मेरे इस्तीफे के संदर्भ में उम्मीद करता हूं कि जो साथी इस सफर में मुझसे जुड़े वो बात को समझेंगे.