तांडव : हिन्दू देवी-देवताओं के अपमान पर इलाहाबाद हाईकोर्ट सख्त, अमेजन प्राइम की इंडिया टेड की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

अमेजन प्राइम के विवादित वेब सीरिज तांडव को लेकर हुआ विवाद अब भी शांत नहीं हुआ है. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक बड़ी बात कहते हुए अमेजन प्राइम की इंडिया हेड अपर्णा पुरोहित की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी. कोर्ट ने तांडव के कंटेंट को लेकर बहुत नाराजगी जताई है. कोर्ट ने साफ़ कहा है कि अभिव्यक्ति की आज़ादी के नाम पर धार्मिक भावनाओं को आहत नहीं किया जा सकता, हिन्दू देवी देवताओं का अपमान नहीं किया जा सकता.

Tandav
Tandav

अमेजन प्राइम की प्रोपगैंडा वेब सीरिज तांडव के एक दृश्य मे भगवान शिव का अपमान किया गया था, जिसको लेकर काफी विवाद हुआ. इस मामले में कई FIR दर्ज हुए. सोशल मीडिया पर सरकार से मांग की गई कि OTT प्लेटफॉर्म्स पर सेंसरशिप लागू की जाए. अली अब्बास जफर के निर्देशन में बनी इस वेब सीरीज में सैफ अली खान, मोहम्मद जीशान आयूब, सुनील ग्रोवर, गौहर खान, कृतिका कामरा और डिंपल कपाड़िया मुख्य भूमिकाओं में थे. निर्देशक अली अब्बास जफ़र को लिखित माफ़ी मांगनी पड़ी थी. उन्हें कहा था कि वो विवादित दृश्य हटाने को तैयार हैं.

OTT प्लेटफॉर्म्स पर आने वाले वेब सीरिज अक्सर विवादों में आ जाते हैं. दरअसल उनपर कोई सेंसरशिप लागू नही थी. लेकिन अब केंद्र सरकार ने OTT प्लेटफॉर्म्स पर लगाम कसने के लिए गुरुवार को गाइडलाइंस जारी कर दी. सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावडेकर ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस में OTT प्लेटफॉर्म्स के लिए गाइडलाइंस जारी की. इसके तहत ओटीटी प्लेटफॉर्म/डिजिटल मीडिया को अपने काम की जानकारी देनी होगी, वो कैसे अपना कंटेंट तैयार करते हैं. इसके बाद सभी को सेल्फ रेगुलेशन को लागू करना होगा. सके लिए एक बॉडी बनाई जाएगी जिसे सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज या कोई अन्य व्यक्ति हेड करेंगे. इलेक्ट्रॉनिक मीडिया की तरह ही डिजिटल प्लेटफॉर्म को भी गलती पर माफी प्रसारित करनी होगी.

दादा ने Mamata Banerjee शासन की धज्जियाँ उड़ा दी