कैंप लगाकर हो रहा था कोरोना का फर्जी टीकाकरण, एक फोटो से खुल गई पोल, जानिए पूरा मामला

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

ग्रेटर नोएडा। कोरोना महामारी पर लगाम लगाने के लिए दुनियाभर में टीकाकरण चल रहा है। भारत में भी दूसरे चरण का टीकाकरण किया जा रहा है। इस बीच जनपद के थाना दादरी क्षेत्र में एक कैम्प लगाकर कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण किया जा रहा था। जो भारत सरकार के बिना पर मिशन और स्वास्थ्य विभाग की जानकारी के बिना आयोजित किया गया था। जब ये बात स्वास्थ्य विभाग को पता चली तो पुलिस से इसकी शिकायत की गई। पुलिस ने मौके पर पंहुची और वैक्सीन लगाने वाले 5 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं मौके से एक लैपटॉप, वैक्सीन, फोन सहित वैक्सीन लगाने वाले मेडिकल उपकरण बरामद किये गए हैं।

यह भी पढ़ें: सरकार की मदद के बिना कुपोषित बच्चों के लिए डीएम की अनोखी पहल, जानकर आप भी करेंगे तारीफ

दरअसल, पुलिस की हिरासत में आए 5 लोग ग्रेटर नोएडा के दादरी क्षेत्र में कोरोना वैक्सीन फ्री में लगा रहे थे। जिसका फोटो खींचकर किसी ने वायरल कर दिया। जब इसकी सूचना स्वास्थ्य विभाग को लगी तो मौके पर पंहुचकर जांच की गई। जिसमें पता चला कि ये टीकाकरण फर्जी था और ये ट्रायल बेस पर वैक्सीन लगा रहे थे। स्वास्थ्य विभाग के आलाधिकारियों कि शिकायत पर पुलिस ने मौके से 5 लोगों को हिरासत में लिया है।

यह भी देखें: ट्रक की चपेट में आकर मासूम भाइयों की गयी जान, मचा कोहराम

दादरी सामुदायिक केंंद्र के मेडिकल सुपरटेंडेंट डॉ संजीव सारस्वत ने बताया कि ये लोग अबतक हजारों लोगों को वैक्सीन का टीकाकरण कर चुके हैं। वहीं ग्रेटर नोएडा में इन्होंने कुल 18 लोगों को वैक्सीन लगाई थी। सबसे बड़ी बात ये है कि ये सारा गोरखधंधा बिना भारत सरकार की अनुमति के हो रहा था। इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को भी नहीं थी।