फर्जी नंबरों से ह्वाट्सएप के जरिये लड़कियों को भेजता था अश्लील मैसेज, पुलिस ने किया गिरफ्तार

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. जिले की पुलिस को बड़ी कामियाबी मिली है। पुलिस फर्जी नम्बरांे से ह्वाट्सएप के जरिए लड़कियों व महिलाओं को अश्लील मैसेज कर परेशान करने व विरोध करने पर फोन कर गाली गलौज करने वाले युवक को गिरफ्तार किया है। उसके पास से पुलिस ने मोबाइल फोन आदि बरामद किया है। आरोपी को जेल भेज दिया गया है।

एक युवक लगातार ह्वाट्सएप मैसेज के जरिये महिलाओं और लड़कियों को परेशान कर रहा था। 11 फरवरी को सिधारी थाना क्षेत्र के गोपालपुर गांव निवासी जयप्रकाश तिवारी पुत्र रामबृक्ष तिवारी ने इस संबंध में सिधारी थाने में शिकायत दर्ज करायी। इसके बाद से ही पुलिस युवक की तलाश में जुटी हुई थी। पुलिस ने युवक तक पहुंचने के लिए साइबर सेल की मदद ली तो मामले से पर्दा उठ गया।

शनिवार को पुलिस ने आरोपी दिग्विजय मौर्य पुत्र नरेन्द्र मौर्य निवासी देवखरी किसुनदासपुर थाना कन्धरापुर को मुखबिर के इशारे पर नरौली चैराहे के पास से गिरफ्तार कर लिया। तलाशी में उसके पास से दो अदद मोबाइल फोन बरामद हुआ। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि वह जयप्रकाश तिवारी के परिवारजनो को जानता है। उसे भंरवनाथ चैराहे के पास एक छोटा सैमसग फोन मिला सिम लगा हुआ था। उसे जयप्रकाश तिवारी के घर की महिला का नंबर मालूम था। उसने छोटे वाले मोबाइल फोन के फोन नंबर 8858229745 से ह्वाट्सएप लोड किया और उक्त महिला पर अश्लील मैसेज करने लगा। मैसेज का विरोध किया गया लेकिन वह जानता था कि नंबर उसके नाम से नहीं है इसलिए वह नहीं फंसेगा।

इसलिए विरोध के बाद भी वह मैसेज करता रहा। एक दिन उसने दोनों मोबाइल का सिम एक दूसरे में लगा दिया। इसी दौरान महिला ने उसकी शिकायत अपने परिजनों से कर दी। इसके बाद परिजनों ने फोन पर उसे डांटा तो वह उन्हें तंग करने की नियत से गाली गलौज करने लगा। एक दिन उसे पता चला कि जयप्रकाश तिवारी अपनी पुत्री का विवाह कप्तानगंज क्षेत्र मे तय कर रहे है तो उसने परेशान करने के लिए शादी तोड़ने का दबाव बनाया। चुंकि एक सिम उसके नाम पर था इसलिए जब उसे शिकायत के बारे में पता चला तो उसने सिम तोड़कर फेंक दिया।

BY Ran vijay singh