Negligence : अधिकारियों की लापरवाही से शर्मसार हुई मर्यादा

अयोध्या : राम नगरी अयोध्या (ayodhya) की मर्यादा शायद अधिकारी नही समझ रहे हैं। जिसके कारण आये दिन अधिकारियों के लापरवाही के कारण शर्मसार होने वाली घटना होती रहती है। आज भी खाद्य एवं रसद विभाग की चूक एक बड़ी बदनामी का कारण बनी। लेकिन इस लापरवाही को सुधारने की जगह लीपापोती करने में लगे हुए हैं।

अयोध्या में खाद रसद विभाग की बड़ी चूक सामने आई और जिसमें राशन कार्ड आवेदन में गलती का सुधार किए बिना ही विभाग लाभार्थी को कार्ड जारी कर दिया. और जिसके कारण कार्ड धारक महिला पात्र होने के बाजवजूद सार्वजनिक वितरण प्रणाली के लाभ से वंचित है. दरसल कार्ड में महिला के माता और पिता नाम पर अभद्र शब्दों का प्रयोग किया है. खाद्य एवं रसद विभाग के संज्ञान में आते ही अधिकारियों ने आनन फानन में विभाग का वेबसाइट से संबंधित कार्ड संख्या की डिटेल हटा दी है.

मामला अयोध्या के मिल्कीपुर विकास खण्ड स्थित ग्राम सभा अस्थना का है. जहां की निवासी महिला नरायन देई के राशन कार्ड में माता पिता के नाम के स्थान पर अपशब्दों का प्रयोग किया है. खाद्य एवं रसद विभाग की इस गड़बड़ी से महिला को अपमान का भी अनुभव कर रही है. विभाग द्वारा जारी राशन कार्ड पर कार्ड धारक का सही नाम अंकित किया गया है जबकि उसके माता पिता के नाम के स्थान अभद्र शब्द लिखे हुए हैं. खाद्य रसद विभाग की इस गड़बड़ी का खामियाजा महिला नरायन देई को भुगतना पड़ रहा है. राशन कार्ड में माता पिता का नाम सही न लिखा होने के चलते उसे राशन नहीं मिल रहा है. वहीं विभाग कार्ड की त्रुटि भी नहीं सुधार रहा.

जिला पूर्ति अधिकारी अभिनव सिंह ने इस मामले पर जानकारी देते हुए बताया कि यह राशन कार्ड 2017 में बना था और फरवरी माह में संशोधन किया गया है इस मामले की जांच कराई जा रही है और जो भी कर्मचारी इसमें दोषी पाए जाएंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें : मंदिर निर्माण में अब तक का सबसे बड़ा अपडेट