टूलकिट मा’म’ले में आया टर्निंग प्वाइंट: टूलकिट में मिला Pieter Friedrich नाम के शख्स का जिक्र, दिल्ली पुलिस ने ISI से जोड़े तार..

किसानों के प्रदर्शन से जुड़े ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में एक्टिविस्ट दिशा रवि को बेंगलुरु से गिरफ्तार कर चुकी दिल्ली पुलिस ने इसमें पाकिस्तानी खु’फि’या एजेंसी ISI का लिंक होने का भी खुलासा किया है. पुलिस ने इस मामले में बड़ा खुलशा करते हुए कहा है कि वे टूलकिट के संबंध में पीटर फ्रेडरिक नाम के एक शख्स की जांच में जुटी हुई है.

बता दें कि इससे पहले भी वर्ष 2006 से भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की रडार पर रहने वाले पीटर फ्रेडरिक का नाम टूलकिट में है. और ये श’ख्स पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI से जुड़ा रहा है. इसलिए अब ग्रेटा थनबर्ग टूलकिट मामले में नया टर्निंग प्वॉइंट आया है. दिल्ली पुलिस ने बताया ग्रेटा थनबर्ग ने जो टूलकिट ट्वीट किया था और बाद में जिसे हटाया उसमें पीटर फ्रेडरिक का नाम था.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि वे पीटर फ्रेडरिक नामक एक व्यक्ति के जरिए आईएसआई के संबंधों की जांच कर रहे हैं जिसका नाम दस्तावेज में है और जिसे संगठन के एक संचालक के साथ जुड़ा हुआ माना जाता है. बता दें कि दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने सोमवार को दावा किया था कि खालिस्तानी त’त्वों के साथ मिलकर भारत को बदनाम करने की साज़िश की जा रही है. लेकिन हम उनके इस इरादे को कामयाब नहीं होने देंगे.

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने सोमवार को अपने बयान में कहा, ’26 जनवरी को हुई हिं’सा सहित पिछले कुछ दिनों के घटनाक्रमों पर ध्यान देने पर पता चला है कि ‘टूलकिट’ में बतायी गई योजना का अक्षरश: क्रियान्वयन किया गया. इसका लक्ष्य ”भारत सरकार के खिलाफ सामाजिक, सांस्कृतिक और आर्थिक यु’द्ध छेड़ना है.’