'ऑपरेशन वूमेन' के जरिए आधी आबादी को साथ लेकर 2022 की नैया पार लगाएगी सपा

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ. प्रदेश में होने वाले 2022 विधानसभा चुनाव को लेकर समाजवादी पार्टी की तैयारियां जोरों पर हैं। सपा इस बार घर की रसोई तक पैठ बनाने की तैयारी कर रही है। जिसके तहत पार्टी समाज के हर क्षेत्र की महिलाओं को पार्टी से जोड़ने के लिए ऑपरेशन वूमेन शुरू कर रही है। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी के महिला मोर्चे के सभी जिलाध्यक्षों को अपने-अपने जिले में महिलाओं की टीम तैयार करने के निर्देश दिए हैं। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से सपा पांच-पांच हजार महिलाओं को पार्टी से जोड़ेगी। पार्टी को उम्मीद है कि महिलाओं को पार्टी से जोड़ने का फायदा 2022 के विधानसभा चुनाव में उसे मिलेगा।

यह भी पढ़ें- जानें- कौन हैं डॉ. बिजेंद्र, जिसकी शादी का निमंत्रण पाकर दौड़े चले आये केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह

मेरठ में समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने बताया कि पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने महिलाओं की टीम तैयार कर पार्टी संगठन को मजबूत करने के निर्देश दिए हैं। इस क्रम में लगातार महिलाओं को पार्टी से जोड़ा जा रहा है। मेरठ की सभी सातों विधानसभा सीटों से पांच-पांच हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा, जिससे आने वाले 2022 के चुनाव में समाजवादी पार्टी को इसका लाभ मिले और प्रदेश की सत्ता पर पार्टी काबिज हो सके। इसके अलावा हम महिलाओं का प्रत्येक विधानसभा क्षेत्रों में बड़ा सम्मेलन भी करेंगे।

बूथ स्तर पर बनाई जाएगी कमेटी

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष राजपाल सिंह ने बताया कि महिलाएं पार्टी की नीतियों और पूर्व में कराए गए कार्यों को जनता के बीच बेहतर तरीके रख सकती हैं और जनता को वर्तमान में योगी सरकार की गलत नीतियों के बारे में ज्यादा अच्छे से बता सकती हैं। यही कारण है कि समाजवादी पार्टी ने महिलाओं को संगठन से जोड़ने फोकस किया है। सपा महिला की प्रदेशाध्यक्ष गीता सिंह ने बताया कि सरोजनी नायडू के जन्मदिन से इस अभियान की शुरुआत की गई है। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर 13 फरवरी को राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर यह निर्णय लिया गया था। इस दिशा पर कार्य शुरू कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें- प्रदेश के एक करोड़ उपभोक्ता 100 प्रतिशत सरचार्ज माफी का उठा सकेंगे फायदा, आज से ओटीएस योजना लागू