खुशखबरी: 31 मार्च से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरेंगे वाहन

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। दिल्‍ली-मेरठ एक्‍सप्रेसवे पर यात्रा करने वालों के लिए खुशखबरी है। अब वो दिन दूर नहीं जब मेरठ से दिल्ली मात्र 60 मिनट में पहुंचा जा सकेंगा। एक्सप्रेसवे को खोलने की तारीख पर केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने मुहर लगा दी है और 31 मार्च यानी बुधवार की सुबह से एक्सप्रेसवे यातायात के लिए खोल दिया जाएगा। संभावना है कि एक अप्रैल से टोल वसूली शुरू हो जाएगी। बताया जा रहा है कि एक्सप्रेस वे पर चलने वालों को केवल आधा टोल टैक्स देना होगा। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने दिल्‍ली-मेरठ एक्‍सप्रेसवे को लेकर नया मास्टर प्लान तैयार किया है।

यह भी पढ़ें: जिस छात्रा की तलाश में थी पुलिस, उसका 1300 KM दूर BJP विधायक ने कराया निकाह, जानिये पूरा मामला

मिली जानकारी के मुताबिक एनएचएआई ने एक प्लान तैयार करके केंद्र सरकार के सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय को भेजा है। जिसमें कहा गया है कि जल्दी मौजूदा टोल दरों को डी-नोटिफाई कर दिया जाए। इसका सबसे बड़ा फायदा डासना से हापुड़ चलने वाले लोगों को मिलेगा। अभी इन लोगों को कार से सफर करने के लिए 125 रुपये देने पड़ते हैं। यह दर घटकर मात्र 70 रुपये हो जाएगी।

कैमरे कटेंगे टोल टैक्स :—

एनएचएआई अब दूरी के हिसाब से टोल टैक्स लेने पर विचार कर रहा है। आने वाले दिनों में दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर कैमरों के जरिए टोल टैक्स लिया जाएगा। मतलब, आप जितनी दूरी तय करेंगे, उसके हिसाब से टोल लिया जाएगा। यह ऑटोमेटिक टोलिंग सिस्‍टम लागू करने की घोषणा तीन दिन पहले भूतल परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने की है। दिल्‍ली-मेरठ एक्‍सप्रेसवे पर सभी एंट्री और एक्जिट पॉइंट पर कैमरे लगाए गए हैं। ये कैमरे नंबर प्‍लेट को स्‍कैन करेंगे और दूरी की गणना करके टोल फास्टैग से काट लेंगे।

यह भी देखें: मस्जिद में लाउडस्पीकर से अजान पर राज्यमंत्री की आपत्ति

अभी पूरा नहीं हो पाया काम :—

दिल्ली—मेरठ एक्सप्रेस वे पर हापुड और गाजियाबाद तक काम पूरा हो चुका है। वहीं अभी इस एक्सप्रेस वे पर गाजियाबाद के आगे काम चल रहा है। जिस रफ्तार से काम चल रहा है अगर ऐसे ही रहा तो मई तक ही इस पर काम पूरा हो पाएगा। तभी एक्सप्रेस वे पूरी तरह से वाहनों के लिए खुलेगा।