महिलाओं के लिए बड़े काम की हैं मोदी सरकार की ये 6 योजनाएं, घर बैठे ऐसे उठा सकती हैं सीधा फायदा

लखनऊ. देश के साथ उत्तर प्रदेश की महिलाओं और उनके परिवारों को सपोर्ट करने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी और यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार बड़े कदम उठा रही है। इसी क्रम में केंद्र सराकर तमाम ऐसी योजनाएं लेकर आई है, जो सिर्फ महिलाओं के लिए ही लाभकारी हैं। दरअसल सरकार की मंशा है कि अगर महिलाएं आत्मनिर्भर होंगी तो समाज भी सशक्त बनेगा। वहीं इन योजनाओ का लाभ देश के साथ प्रदेश की महिलाओं को बड़े पैमाने पर मिल रहा है। यहां आपको मोदी सरकार की ओर से लागू की गई उन योजनाओं के बारे में बताते हैं, जिनका महिलाएं आसानी से लाभ उठा सकती हैं।

1 - बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना (Beti Bachao Beti Padhao Yojana)

बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना 22 जनवरी 2015 से शुरू की गई थी। इस योजना का मेन मकसद Girl Sex Ratio (लिंग अनुपात) में आ रही कमी को रोकना है। इसके अलावा बच्चियों को पढ़ाई के लिए प्रेरित कर महिला सशक्तिकरण की ओर अग्रसर करना भी इस योजना का मकसद है। यह योजना उन महिलाओं की काफी मदद करती है, जो घरेलू या किसी भी तरह की हिंसा से पीड़ित हैं। इसमें महिलाओं को यह सुविधा दी गई है कि मदद के समय वे कभी भी पुलिस, कानून और चिकित्सा जैसी सुविधाएं ले सकती हैं। बस इसके लिए महिलाओं को टोल फ्री नंबर 181 पर फोन करना होगा। जिसके बाद उन्हें सभी तरह की मदद प्रदान कराई जाएगी।

2 - प्रधानमंत्री उज्जवला योजना (Pradhanmantri Ujjwala Yojana)

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की प्रधानमंत्री उज्जवला योजना महिलाओं के लिए सबसे सफल है। 1 मई 2016 को उत्तर प्रदेश के बलिया जिले से इस योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना की मदद से आर्थिक रूप से कमजोर गृहणियों को गैस सिलेंडर दिया जाता है। आंकड़ों के मुताबिक अब तक करोड़ों परिवारों को इस योजना के तहत फायदा मिला है।

3 - सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना (Surakshit Matritva Aashwasan Suman Yojana)

प्रसव के दौरान मां और बच्चे का ख्याल रखने के लिए मोदी सरकार ने इस योजना की शुरुआत की थी। यह योजना 10 अक्टूबर 2019 से शुरू की गई थी। सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना के तहत अस्पतालों और ट्रेंड नर्सों की निगरानी के बीच महिलाओं का प्रसव कराया जाता है। जिससे महिला और बच्चे की काफी अच्छी तरह से देखभाल हो सके। इसके तहत गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशुओं के लिए बिना किसी फीस के सभी तरह की सरकारी सुविधाएं दी जाती हैं।

4 - समर्थ योजना (Samarth Yojana)

केंद्र की मोदी सरकार की समर्थ योजना भी महिलाओं के लिए काफी लाभदायक योजना है। इस योजना के तहत जरूरतमंद महिलाओं को अलग-अलग प्रकार के वस्त्र उत्पादन के गुर और उससे जुड़े कार्यों बारे में सिखाया जाता है। इसकी मदद से महिलाएं वस्त्र उद्योग में जान फूंक सकती हैं। इससे न केवल ग्लोबल टेक्स्टाइल बिजनेस में भारत की हिस्सेदारी बढ़ रही है, बल्कि इसका फायदा महिलाओं को भी मिल रहा है।

5- फ्री सिलाई मशीन योजना (Free Silai Machine Yojana)

जिन भी महिलाओं को सिलाई-कढ़ाई के काम में रुचि आती है और इसको अपना प्रोफेशन बनाना चाहती हैं। उनके लिए यह योजना काफा फायदेमंद है। इस योजना का लाफ ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रो की महिलाएं उठा सकती हैं। मोदी सरकार की तरफ से उत्तर प्रदेश में भी 50 हजार से ज्यादा महिलाओं को फ्री में सिलाई मशीनें दी जा रही हैं। 20 साल से 40 साल तक की महिलाएं इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।

6- सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Samriddhi Yojana)

मोदी सरकार की तरफ से लागू इस योजना की शुरुआत देश के साथ उत्तर प्रदेश में 22 जनवरी 2015 को की गई थी। यह स्कीम 10 साल से कम उम्र की बच्चियों को उच्च शिक्षा देने और उनकी शादी कराने के लिए शुरू की गई थी। इसके तहत बच्चियों का भविष्य भी सुरक्षित कराया जाता है। आप बैंक और पोस्ट ऑफिस की किसी भी ब्रांच में जाकर अपनी 10 साल की बेटी के लिए खाता खुलवाकर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

यह भी पढ़ें: SBI में नहीं है अकाउंट तो तुरंत खुलवा लें, बैंक अपने खाताधारकों को दे रहा 2 लाख रुपये का सीधा फायदा