तमिलनाडु : भाजपा और AIADMK के बीच सीट शेयरिंग फाइनल, इतने सीटों पर भाजपा लड़ेगी चुनाव

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा और AIADMK के बीच सीटों का समझौता हो गया. भाजपा तमिलनाडु में 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी जबकि शेष सीटों पर AIADMK चुनाव लड़ेगी. इसके अलावा कन्याकुमारी लोकसभा सीट भी भाजपा के खाते में गई है. इस सीट पर उपचुनाव होना है क्योंकि कांग्रेस के सांसद एच वसंतकुमार का कोरोना वायरस के कारण निधन हो गया था. भाजपा इस सीट से दो बार जीत का परचम लहरा चुकी है. साल 1996 और 2014 के लोकसभा चुनाव में ये सीट भाजपा ने जीती थी.

तमिलनाडु में 234 विधानसभा सीटें हैं. साल 2016 के विधानसभा चुनाव में AIADMK ने 134 सीटें जीती थी जबकि DMK ने 89 और कांग्रेस ने 8 सीटें हासिल की थी. भाजपा के हाथ खाली रहे थे. भाजपा दक्षिण के राज्यों के पाँव जमाने के लिए लम्बे अरसे से कोशिश कर रही है. कर्नाटक को छोड़ कर अब तक भाजपा को कहीं भी सफलता नहीं मिल सकी है. 2016 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को महज २.86 प्रतिशत वोट मिले थे और पार्टी ने सभी 234 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे.

इस बार पार्टी को उम्मीद है की उसे सफलता मिलेगी क्योंकि इस बार वो अकेले नहीं गठबंधन करके के मैदान में है, और पार्टी ने गठबंधन भी उस पार्टी के सात५ह किया है जिसके पास सत्ता में रहने का लम्बा अनुभव है. तमिलनाडु की 234 विधानसभा सीटों के लिए 6 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे. चुनावों के नतीजे 2 मई को घोषित किए जाएंगे. तमिलनाडु के साथ ही केरल, पुदुचेरी, पश्चिम बंगाल और असम में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं.