लगातार गैरहाजिर चल रहे दराेगा काे डीआईजी ने किया बर्खास्त, जानिए पूरा मामला

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

सहारनपुर ( Saharanpur ) यूपी पुलिस में दराेगाओं ( police sub inspector ) की दराेगागिरी के कई किस्से आपने सुने हाेंगे लेकिन यह मामला बिल्कुल अलग है। मुजफ्फरनगर में तैनात एक दरोगा वर्ष 2018 से लगातार गैर हाजिर चल रहा था। इस लापरवाही पर डीआईजी ने दराेगा काे बर्खास्त करते हुए उसकी सेवाएं समाप्त कर दी हैं।

यह भी पढ़ें: दरोगा की अमानवीय करतूत हुई कैमरे में कैद तो एसपी ने तत्काल लिया एक्शन

डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने बताया कि प्राथमिक जांच कराने से पता चला कि दराेगा छह जून 2018 से गैर हाजिर चल रहा था। मुजफ्फरनगर एसएसपी से मामले की जांच कराई गई ताे पता चला कि अब तक की नाैकरी में दरोगा 1393 दिन गैर हाजिर रहा। इस बड़ी लापरवाही पर दराेगा काे नाेटिस भेजा गया लेकिन उसने नाेटिस का भी जवाब नहीं दिया। इस अनुशासनहीनता पर दरोगा काे बार्खास्त कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: अधिवक्ता ने मांगी भैंसा-बुग्गी से कचहरी आने-जाने की अनुमति

यह दराेगा मुजफ्फरनगर में तैनात था। डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने दराेगा काे बर्खास्त करने के बाद रिपाेर्ट मुख्यालय भेज दी है। डीआईजी ने दराेगा की जाांच मुजफ्फरनगर एसएसपी अभिषेक यादव से कराई थी। एसएसपी मुजफ्फरनगर की जांच रिपाेर्ट के आधार पर अब सहारनपुर डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने लापरवाह दराेगा काे ठिसमिस करते हुए उसकी सेवाएं समाप्त कर दी। डीआईजी के इस एक्शन के बाद पुलिस महकमें के लापरवाह दराेगाओं में हड़कंप मचा हुआ है।