ढाबा संचालक को चाकुओं से गोदा, प्रॉपर्टी विवाद में निर्ममता से हत्या की आशंका

सीतापुर. थाना क्षेत्र में होली पर एक परिवार की खुशियां मातम में उस वक़्त बदल गयी जब यह ढाबा मालिक की चाकुओं से गोदकर निर्मम हत्या कर दी गई हैं। अज्ञात हमलावरों ने वारदात को उस वक़्त अंजाम दिया जब ढाबा मालिक ढाबे की रखवाली के लिए वहां सो रहा था। उसी दौरान हमलवारों ने चाकुओं से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया। हमलावरों ने हत्या के बाद मृतक के पैर भी बांध दिए और मौके से फरार हो गए। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि घटना संदेहास्पद प्रतीत हो रही है और जल्द ही घटना के पीछे हर पहलू को सामने लाया जाएगा।

 

ढाबा संचालक की हत्या

घटना खैराबाद कोतवाली क्षेत्र के नेशनल हाइवे 24 की है। यहां पर स्थित मछरेहटा पुलिस चौकी से तकरीबन 200 मीटर की दूरी पर एक गुप्ता फैमली ढाबा स्थित हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, यहां के निवासी अशोक कुमार गुप्ता का फैमली ढाबा स्थित है और वह ढाबे के साथ साथ प्रॉपर्टी डीलिंग का भी काम करता था। परिजनों के मुताबिक,होली के मद्देनजर ढाबे पर काम करने वाले मज़दूर सभी घर चले गए तो ढाबा संचालक अशोक ढाबे की रखवाली के लिए वहीँ पर सो गए। बीती रात अज्ञात हमलावरों ने ढाबे में घुसकर ढाबा संचालक की चाकुओं से गोदकर निर्मम हत्या कर दी और शव के पैर भी रस्सी से बांध दिया और मौके से फरार हो गए।

 

जांच में जुटी पुलिस

घटना की जानकारी पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया हैं। पुलिस का कहना हैं कि इस वारदात के पीछे दो लोगों पर हत्या का आशंका प्रतीत हो रही है क्योंकि यह हत्यारोपी मृतक के साथ ही प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करते हैं। पुलिस का कहना है कि शक के आधार पर पूछताछ की जा रही है और जल्द ही घटना का अनावरण किया जाएगा।