हजारों कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, सरकार ने बढ़ाया मानदेय, आदेश जारी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के निकायों में ठेके यानी कार्यदायी संस्था के माध्यम से काम कर रहे सफाईकर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी है। योगी आदित्यनाथ सरकार ने इन सभी का मानदेय 308 रुपये से बढ़ाकर 336.85 रुपये रोजाना कर दिया है। इस हिसाब से हर महीने चार छुट्टियां निकालने पर 8758 रुपये एक ठेका सफाई कर्मचारी को मिलेगा। सरकारी की संस्तुति के बाद नगर विकास विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है।

 

 

कर्मचारियों के लिए खुशखबरी

दरअसल प्रदेश भर के निकायों में 5000 से ज्यादा कार्यदायी संस्था के माध्यम से सफाई कर्मचारी लगाए गए हैं। साल 2014 में इन सफाई कर्मचारियों का मानदेय 250 रुपये रोजाना निर्धारित किया गया था। इसे 24 मई 2019 को बढ़ाकर 308.18 रुपये प्रतिदिन किया गया। इस हिसाब से मौजूदा समय में इन सफाई कर्मचारियों को हर महीने 8012.73 रुपये मिल रहा था। लेकिन अब इन सभी कर्मचारियों को सरकार ने बड़ी खुशखबरी दी है।

 

 

सरकार ने बढ़ाया मानदेय

क्योंकि अब श्रम कानूनों के मुताबिक दैनिक मजदूरों की न्यूनतम मजदूरी नए सिरे से तय की गई है। इसके आधार पर श्रम विभाग ने नगर विकास विभाग को पत्र भेजा। इसमें न्यूनतम मजदूरी अधिनियम 1948 में श्रमिकों, कार्मिकों को मूल दरों और देय परिवर्तन मंहगाई भत्ते के निर्धारण की व्यवस्था की गई है। इसके आधार पर नगरीय स्थानीय निकायों में सेवा प्रदाता या ठेके के माध्यम से रखे गये सफाई कर्मचारियों या कार्मिकों को रोजाना 336.85 और हर महीने 8758 रुपये देने की व्यवस्था की गई है। नगर विकास विभाग ने नगर आयुक्तों और अधिशासी अधिकारियों को इसके आधार पर बिना किसी कटौती के भुगतान करने का निर्देश दिया है।

 

 

यह भी पढ़ें: अब गरीबों के राशन में नहीं होगी चोरी, एफसीआई सीधे कोटेदार को देगा अनाज, बड़ा बदलाव