पद्मश्री पुरस्कार पाने वाली ऊषा यादव को मिला दरवेश स्मृति महिला विभूषण सम्मान, गदगद हुई ताजनगरी

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा। कानून का पाठ पढ़ने और पढ़ाने वालों ने जब साहित्य प्रेमी का मंच से सम्मान किया तो समूची ताजनगरी खुशी से खिल गई। तालियों की गड़गड़ाहट और काव्यों से भरे मंच पर दरवेश स्मृति महिला विभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया।
यह भी पढ़ें—

आगरा में पंचायत चुनाव को लेकर आरक्षण जारी, कहां से कौन लड़ सकेगा चुनाव देखिए सूची

यह हुआ आयोजन
आगरा एडवोकेट्स एसोसिएशन द्वारा विख्यात बाल साहित्यकार एवं पद्मश्री पुरस्कार से अलंकृत प्रोफेसर उषा यादव को दरवेश स्मृति महिला विभूषण सम्मान से सम्मानित किया गया। उन्हें पुष्प गुच्छ, शाल, प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। अधिवक्ताओं ने पूर्व बार काउन्सिल चेयरमेन दरवेश की स्मृति में प्रत्येक वर्ष सामाजिक, साहित्यिक क्षेत्र उल्लेखनीय कार्यों के लिए एक नारी का सम्मान करने का फैसला लिया था जिसमें साहित्यकार प्रोफेसर उषा यादव के नाम पर सहमति बनी थी। एसोसिएशन के अध्यक्ष सत्येन्द्र कुमार यादव, सचिव पवन गुप्ता, संयोजक अरुण पचौरी, चौ. अजय सिंह, गवर्निग काउंसिल मेम्बर मेघ सिंह यादव, विजय वर्मा, अंजू चौहान, रामब्रज यादव, रामबाबू राठौर, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की पैनल लॉयर सरोज यादव, जितेन्द्र अरेला, मो. असलम, गौरव शुक्ला, दिलीप फौजदार आदि अधिवक्ताओं ने उन्हें सम्मानित किया। इस अवसर पर प्रो. उषा यादव ने कहा कि उनके पिता स्व. श्री चंद्रपाल सिंह यादव ‘मयंक ‘ भी अधिवक्ता थे। न्यायालय में पैरवी के दौरान जब भी समय मिलता था तो कविता एवं संस्मरण लिखने लग जाते थे। उन्होंने अधिवक्ताओं से गरीब व असहायों की सस्ते और सुलभ न्याय तक पहुँच बनाने में मदद करने की अपील की। इस आवसर पर डॉ. राजकिशोर सिंह भी मौजूद रहे।