आज जारी होगी आरक्षण सूची, इस बार एक मतदाता को डालने होंगे चार वोट

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए सीटों के आरक्षण का इंतजार खत्म हुआ। आज निर्धारित स्थानों पर ग्राम पंचायत के आरक्षित प्रधानों, ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत एवं जिला पंचायत के आरक्षित प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र (वार्ड) के आवंटन की प्रस्तावित सूची का प्रकाशन किया जाएगा। इससे सीटवार आरक्षण की स्थिति लगभग साफ हो गयी है। आरक्षण को लेकर दावेदारों में बेचैनी साफ दिख रही है। वे मनमाफिक सीट न होने पर आपत्ति दाखिल करने की तैयारी पहले से किये बैठे है। वहीं यह चुनाव पिछले चुनाव से थोड़ा अलग होगा। इस बार एक मतदाता एक साथ चार वोट डालने होंगे। कारण कि आयोग ने सभी पदों पर एक साथ चुनाव कराने का फैसला किया है। प्रशासन आरक्षण सूची के साथ ही चुनाव संबंधी अन्य तैयारियों में भी जुटा है।

बता दें कि जिले में ग्राम प्रधान के 1858, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 2004, जिला पंचायत सदस्य के 84, क्षेत्र पंचायत प्रमुख की 22, जिला पंचायत अध्यक्ष के 1 तथा ग्राम पंचायत सदस्य के 22954 पदों पर चुनाव होना है। जिला पंचायत अध्यक्ष पद को अन्य पिछड़ों के लिए आरक्षित कर दिया गया है। बाकी पदों पर आरक्षण की सूची आज जारी होगी। दो से तीन मार्च तक निर्धारित स्थानों पर ग्राम पंचायत के आरक्षित प्रधानों, ग्राम पंचायत, क्षेत्र पंचायत एवं जिला पंचायत के आरक्षित प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्र (वार्ड) के आवंटन की प्रस्तावित सूची का प्रकाशन किया जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि सूची के प्रकाशन के बाद चार से आठ मार्च तक प्रस्तावों पर आपत्तियां ली जाएंगी।

नौ मार्च को आपत्तियों का जिला मुख्यालय पर जिला पंचायत राज अधिकारी कार्यालय में एकत्र किया जाएगा। 10 से 12 मार्च तक आपत्तियों का जनपद स्तर पर जिला मजिस्ट्रेट की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा परीक्षण व निस्तारण कर अंतिम सूची तैयार की जाएगी। समिति में जिला मजिस्ट्रेट अध्यक्ष, मुख्य विकास अधिकारी सदस्य, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत सदस्य व जिला पंचायत राज अधिकारी सदस्य सचिव शामिल हैं। 13 से 14 मार्च तक जिला मजिस्ट्रेट द्वारा आरक्षित ग्राम पंचायत के प्रधानों, ग्राम पंचायतों, क्षेत्र पंचायतों एवं जिला पंचायतों के प्रादेशिक निर्वाचन क्षेत्रों (वार्ड) की अंतिम सूची का प्रकाशन किया जाना है। 15 मार्च को पदवार सूची का अंतिम प्रकाशन किया जाएगा। इस बार ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, बीडीसी और जिला पंचायत सदस्यों के चुनाव इस बार एक साथ होंगे। ऐसे में प्रत्येक वोटर को इस बार चार वोट डालने होगे। चुनाव के लिए मतपत्र पहले ही आ चुके है।

बता दें कि पिछली बार ग्राम प्रधान व ग्राम पंचायत सदस्य के चुनाव एक साथ हुए थे। क्षेत्र पंचायत सदस्य व जिला पंचायत सदस्य के चुनाव अलग से हुए थे। इस बार समय बचाने के लिए चारों पदों के चुनाव एक साथ कराने की तैयारी है। यानी एक मतदाता को इस बार चार बैलेट पेपर पर मुहर लगानी होगी। शासन के निर्देश पर जिला प्रशासन ने संवेदनशील बूथों को चिन्हित करने के निर्देश दिए है।

BY Ran vijay singh