गोशाला में गोवंशों की मौत पर शुरू हुई सियासत, सपा-कांग्रेस ने योगी सरकार पर बोला हमला

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
ग्रेटर नोएडा. जलपुरा गांव में मरने वाले गोवंश की संख्या एक दर्जन के अधिक है। जबकि पहले दिन गोशाला कर्मचारियों ने आधा दर्जन गोवंश के मरने की बात कबूली थी। शासन गोवंश के पोस्टमार्टम की रिपोर्ट जारी नहीं की है। वहीं ग्रामीणों की मानें तो गोशाला में मरने वाले गोवंश का आंकड़ा ज्यादा है। देखरेख के अभाव में रोज गोवंश दम तोड़ रहे हैं। गोशाला में गोवंश भूख व बीमारी से लगातार मर रहे हैं। कई गोवंश के शव कीचड़ में पड़े-पड़े सड़ रहे थे। इन्हें रातोंरात गोशाला कर्मचारियों ने दफना दिया। इस बीच गोवंश की मौत को लेकर सियासत भी शुरू हो गई है। कांग्रेस और सपा के नेताओं ने गोवंशों की मौत को लेकर योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

यह भी पढ़ें- UP में गायों की मौत, प्रियंका गांधी का सीएम योगी पर तंज, बोलीं- इनके लिए प्रचार ही शासन

गोवंश की मौत का वीडियो वायरल होने के बाद लोगों का आक्रोश बढ़ता जा रहा है। कई राजनीतिक दल भी आगे आ गए हैं। शुक्रवार सुबह जहां कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने गोवंशों की मौत को लेकर तंज कसा था। इसके बाद कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने गोशाला पहुंचकर प्रदर्शन किया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी और नोएडा महानगर अध्यक्ष शहाबुद्दीन के नेतृत्व में कार्यकर्ता प्रदर्शन करने जलपुरा गांव पहुंचे। जिलाध्यक्ष मनोज चौधरी ने बताया कि गोशाला में गोवंश को संरक्षित करने के लिए उचित व्यवस्था नहीं है। उन्होंने गोवंश के लिए अतिरिक्त टीन शेड बनाने, चारा और पानी की उचित व्यवस्था, दवा के साथ जिम्मेदार प्राधिकरण और प्रशासन के अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग की है। गो रक्षा हिन्दू दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने गौवंश की इस हालत के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को जिम्मेदार ठहराया है ।

सपा प्रवक्ता ने भी जताई नाराजगी

सपा प्रवक्ता श्याम सिंह भाटी ने भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ट्वीट कर इस मुद्दे पर नाराजगी जताई है। वहीं एक्टिव सिटीजन टीम के सदस्य भी गोशाला में व्यवस्थाओं का जायजा लेने पहुंचे। समाजसेवी हरेंद्र भाटी ने बताया कि टीम समय-समय पर गोशाला का निरीक्षण करेगी। उन्होंने ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण को पत्र लिखकर गोशाला में व्यवस्थाओं को दुरुस्त कराने का अनुरोध किया है।

यह भी पढ़ें- Noida गाैशाला में दस से अधिक गाेवंश की माैत, भूख और प्यास से माैत हाेने की आशंका