Canada की नागरिकता लेने के बाद भी आ गया अपने गांव, अब कोर्ट ने भेजा जेल, जानिए पूरा मामला

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

रामपुर। कनेडा के इंद्रजीत को उत्तराखंड पुलिस ने पंतनगर इलाके से गिरफ्तार करके रामपुर की सीजेएम कोर्ट में पेश किया। जहां कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है। दरअसल, गिरफ्तार इंद्रजीत के खिलाफ विदेशी नागरिकता अधिनयम एवं फर्जी तरह से पासपोर्ट बनवाने व धोखाधड़ी के आरोप में एक केस रामपुर जिले के थाना खजुरिया में दर्ज था । इसी केस में सीजेएम कोर्ट ने पहले खजुरिया थाने की पुलिस को गिरफ्तार करने के लिए वारंट भेजा था। खजुरिया पुलिस ने कोर्ट को बताया कि था कि ये इलाके उनके थाने में नहीं आता। इस दौरान मुकदमा दर्ज कराने वाले शख्स के वकील ने कोर्ट को कहा कि इंद्रजीत इन दिनों पंतनगर थाना इलाके के उत्तराखंड में रह रहा है, जिसको लेकर कोर्ट ने पंतनगर थाने की पुलिस को उसे गिरफ्तार करने का आदेश दिया।

यह भी पढ़ें: UP की पहली सबसे Hitech जेल, जहां पुलिसकर्मी हुए बॉडी वार्न कैमरों से लैस

बता दें कि थाना खजुरिया के ग्राम ख़ड़िया में इंद्रजीत साल 1968 में पैदा हुआ। बताया जाता है कि इसकी गलत आदतों व गलत संगत को लेकर इसके पिता ने सम्बंध खत्म कर लिए थे। साल 1991 में ये भारत छोड़कर कनाडा चला गया और वहां की नागरिकता ले ली। 3 फरवरी 2018 को वह टूरिस्ट वीजा पर भारत आया जिसकी वैधता 6 माह की होती है। इसके बाद वह यहां पर गलत तरह से रहने लगा। आरोप है कि वह अपने परिवार के पुराने सदस्यों को धमकाने लगा। जिसको लेकर एक केस बीते 9 अप्रेल 2020 को खजुरिया में दर्ज हुआ। उसी केस में इंद्रजीत को जेल जाना पड़ा है।

यह भी देखें: 18 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चल रही हवाओं ने गिराया तापमान

मुकदमा दर्ज कराने वाले शख्स के वकील ने बताया कि इंद्रजीत ने कई बड़े-बड़े फ्रॉड किए हैं। इसने कनाडा में भी बड़े-बड़ेे फ्रॉड किए हैं। गूगल पर जैसे ही इसका नाम डालो तो तमाम सारे आरोप तमाम सारी चीजें सामने आ जाएंगी। इंद्रजीत ने पंजाब राज्य के संगरूूूर जिले से एक नहींं, दो नहीं बल्कि 3 लाइसेंस बनवाए हैं। अब उन लाइसेंसों की धमक पर लोगों को धमकाने के आरोप लगे हैं। उधर, इंद्रजीत पर लगे आरोपों की जांच में पुलिस ने सारी चीजें सही पाई हैं। पुलिस ने कोर्ट में चार्जशीट फाइल की है। इसके अलावा तमाम सारी जांच पड़ताल की जा रही है।