किसान ने पुलिस से की भैंसे का DNA टेस्ट कराने की मांग, मामला जानकर भन्ना जाएगा सिर

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

शामली। जनपद से 6 महीने पहले चोरी हुआ एक भैंसा मालिक ने सहारनपुर में ढूंढ निकालने का दावा किया है। वहीं किसान का कहना है कि पुलिस अब उसके भैंसे को वापस नहीं करवा पा रही है। जिसके चलते उसने पुलिस अधिकारियों से भैंसे का डीएनए टेस्ट कराने की मांग की है। दरअसल, शामली के अहमदगढ़ गांव के चंद्रपाल का भैंसा गुड्डू 6 महीने पहले चोरी हो गया था। किसान का कहना है कि क्राइम कंट्रोल के फार्मूले के तहत पुलिस ने भैंसे की चोरी को अपराध नहीं माना और मुकदमा दर्ज नहीं किया।

यह भी पढ़ें: अब Driving Licence के लिए नहीं जाना होगा RTO, घर बैठे-बैठे ही होंगे ये 18 काम

उधर, किसान लगातार अपने भैंंसे को तलाश करता रहा और अब दावा है कि उसका भैंसा सहारनपुर के बीनपुर गांव में सतवीर नामक एक व्यक्ति के घर में है। जिसकी सूचना किसान चंद्रपाल ने पुलिस को दी। आरोप है कि पुलिस ने किसान और ग्राम प्रधान से एफिडेविट लेकर केस को रफा दफाकर दिया। जिसके बाद से वह लगातार अपने भैंसे को हासिल करने के लिए पुलिस थाने के चक्कर काट रहा है।

यह भी देखें: स्वस्थ्य नोएडा, स्वच्छ नोएडा के थीम पर महिला दिवस पर पिंक मैराथन का आयोजन

बताया जा रहा है कि जब किसान ने पुलिस को उसके भैंसे के एक घर में मिलने की सूचना दी तो पुलिस ने 10 दिन का वक्त मांगा। आरोप है कि इन 10 दिनों में पुलिस ने बजाए भैंसे की बरामदगी के बीनपुर गांव के ग्राम प्रधान, सतवीर और उसके पड़ोसियों के बयान दर्ज किए और यह मानकर केस बंद कर दिया कि वह भैंसा सतवीर का ही है। जिसके चलते अब चंद्रपाल ने भैंसे के डीएनए का मिलान उसके घर में मौजूद भैंस से करने की गुहार लगाई है। किसान का दावा है कि वह भैंसा उसकी भैंस से ही जन्मा है।