यहां दिहाड़ी मजदूर ही बन गए मुन्नाभाई, LLB का एग्जाम देते समय ऐसे पकड़ में आये

बाराबंकी. जनपद बाराबंकी में एलएलबी की परीक्षा दे रहे चार दिहाड़ी मजदूर पकड़े गए हैं। उड़नदस्ता की टीम ने इन मजदूरों को पकड़कर कॉलेज प्रशासन और पुलिस के हवाले कर किया। पुलिस ने चारों मजदूरों को गिरफ्तार कर लिया है। ये पूरा मामला सतरिख थाना क्षेत्र के टीआरसी लॉ कॉलेज का है। यहां एलएलबी की परीक्षा कराई जा रही थीं। परीक्षा देने वाले छात्रों की भीड़ भी थी, लेकिन चार संदिग्ध परीक्षार्थी उड़नदस्ते की नजर से बच नहीं सके और वह उनकी पकड़ में आ गए। पूछताछ में आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। उन्होंने बताया कि वह किसी दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने आए हैं।

पकड़े गए चार दिहाड़ी मजदूर

टीआरसी लॉ कालेज प्रशासन का कहना है कि परीक्षा सेंटर में दो कॉलेजो से बच्चे परीक्षा के लिए आए हैं। सभी की गहन जांच और तलाशी की जा रही थी। तभी उड़नदस्ते की नजर चार संदिग्ध परीक्षार्थियों पर पड़ी। आरोपियों में श्याम कुमार, हरिकेश कुमार, विनय कुमार और अनुज कुमार हैं। ये लोग परीक्षार्थी त्रिभुवन सिंह, सतीश कुमार, विकास श्रीवास्तव और दिनेश कुमार यादव के स्थान पर परीक्षा देने आए थे।

पुलिस ने किया गिरफ्तार

वहीं बाराबंकी के पुलिस अधीक्षक यमुना प्रसाद ने बताया कि सतरिख के टीआरसी लॉ कॉलेज में अवध विश्वविद्यालय के एलएलबी की परीक्षा चल रही थी। वहां से चार ऐसे लोगों को गिरफ्तार किया गया है जो मुन्नाभाई बनकर दूसरे की जगह पर परीक्षा देने आए थे। पूछताछ में पता चला कि छाया चौराहे पर लगने वाली दिहाड़ी मजदूरों की मंडी से चार लोगों को हिमांशु नाम का शख्स लेकर आया था। हिमांशु ने उन्हें मजदूरी का लालच देकर परीक्षा में बैठने को कहा था।