देश में बढ़ते हुए कोरोना के समय में ऑक्सीजन की हुई कमी, साथ ही कोरोना के 3 लाख से ज्यादा मामले आये सामने

कोरोना का कहर पुरे देश में तेजी से बढ़ता ही जा रहा है. महामारी दिन प्रतिदिन गंभीर रूप धारण करती जा रही है. बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज सामने आने के साथ ही मरनें वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती ही जा रही है. कोरोना की दूसरी लहर ने भूचाल मचा कर रख दिया है. ऐसा माना जा रहा है कि इस बार संक्रमण की गति काफी तेज है. पहले की तुलना में मृत्यु अधिक हो रही है. संक्रमण तेजी से फैल रहा है.

देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के 346789 नए मरीज आये सामने बढ़ता हुआ ये आकड़ा बहुत ही डरावना होता जा रहा है और कोरोना संक्रमण के कारण 2624 लोगों की मृत्यु हो गई है. वहीं अच्छी खबर ये है कि कोरोना के 219838 मरीज स्वस्थ्य हो चुके हैं. कोरोना महामारी के तेजी से बढ़ने के कारण ही इलाज की व्यवस्थाओं पर भी संकट आया है. कहीं बेड तो कहीं ऑक्सीजन के लिए मारामारी है. एम्बुलेंस का भी यही हाल है. रेमडेसिविर इंजेक्शन हो या अन्य जीवन रक्षक दवाएं इनकी उलब्धता कम है.

हलाकि आप को बता दें कि ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए वायुसेना ने मोर्चा संभाल लिया है. ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए वायुसेना के मालवाहक विमान क्रायोजेनिक ऑक्सीजन कंटेनर पंहुचा रहें हैं. केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भी ऑक्सीजन एक्सप्रेस को लेकर ट्वीट करते हुए लिखा है कि सरकार द्वारा देश भर में ऑक्सीजन आपूर्ति का कार्य निरंतर जारी है.