भीषण अग्निकांड में गन्ने की 30 बीघा फसल जलकर खाक, कई किसानों की पूरी फसल तबाह

सीतापुर. कोतवाली क्षेत्र में तेज हवाओं के चलते भीषण अग्निकांड का विकराल रूप देखने को मिला है। चिंगारी ने निकली आग ने तेज हवाओ के चलते विकराल रूप धारण कर लिया और आग की लपटों ने गन्ने की खड़ी 30 बीघा फसल जलकर खाक हो गईं। गन्ने की खड़ी फसल जलने से किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीरें छा गयी हैं। स्थानीय ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया लेकिन तब तक आग ने गन्ने की फसल को तबाह कर दिया। स्थानीय प्रशासन ने किसानों को मुआवजे का आस्वाशन दिया है।

तेज हवा के चलते लगी आग

घटना मिश्रिख तहसील क्षेत्र के मिश्रापुर गांव की है। यहां के निवासी महेश के खेत में गन्ने के बचे अवशेष को जलाया गया था। मिली जानकारी के मुताबिक, तेज हवाओं के चलते उसी अवशेष से निकली चिंगारी पड़ोस के राजू नाम के व्यक्ति के खेत मे पहुंच गई और वहां खड़ी गन्ने की फसल को अपनी चपेट में ले लिया। तेज हवाओं के चलते आग ने विकराल रूप घारण कर लिया और देखते ही देखते पड़ोस के 5 खेतों में खड़ी गन्ने की फसल को अपनी चपेट में ले लिया।

जलकर खाक हुई फसल

किसानों के सामने ही उनकी फसल देखते ही देखते खाक हो गयी और किसानों महज सिर्फ अपनी फसल ही निहारते रह गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने ग्रमीणों की मदद से आग पर काबू पाया और ग्रामीणों ने भी गन्ने की हरी पत्तियों के सहारे ही आग बुझाया। स्थानीय प्रशासन ने सूचना के बाद मौका-ए-वारदात का मुआयना किया और पीड़ित किसानों को हर संभव मदद दिलाने का आश्वासन भी दिया।