अंतिम दौर में पहुंचा पंचायत चुनाव का प्रचार, 3720084 मतदाताओं के हाथ में 42527 प्रत्याशियों का भविष्य

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आजमगढ़. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में दूसरे चरण का मतदान 19 अप्रैल को होना है। चुनाव प्रचार अपने अंतिम दौर में पहुंच गया है। प्रधान से लेकर ग्राम पंचायत सदस्य तक के प्रत्याशियों ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। चुनाव में धन बल का खुलेआम प्रयोग हो रहा है। वहीं मतदाता पूरी तरह मौन हैं। वे किसी भी हालत में अपना पत्ता खोलने के लिए तैयार नहीं है। इससे प्रत्याशियों की धड़कन बढ़ी हुई है।

बता दें कि जिले में ग्राम प्रधान पद के 1858, ग्राम पंचायत सदस्य 22820, क्षेत्र पंचायत सदस्य के 2104 और जिला पंचायत सदस्य पद के 84 पदों के लिए चुनाव हो रहा है। कुल 26866 पदों के लिए 42527 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इन प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला 3720084 मतदाता करेंगे। मतदान की तैयारियां पूरी कर ली गयी है। कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए मतदान केंद्र पर मास्क, सेनिटाइजर अनिवार्य कर दिया है। प्रशासन अपनी तरफ से पूरा प्रयास कर रहा है कि चुनाव शांतिपूर्ण व कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए संपन्न हो।

वहीं प्रत्याशी कोरोना प्रोटोकाल की धज्जी उड़ा रहे हैं। किसी के काफिले में मास्क नहीं दिख रहा है। दूसरी तरफ मतदाताओं को लुभाने के लिए पूरी ताकत झोंकी जा रही है। मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए शाम दाम दंड भेज का खुलकर प्रयोग हो रहा है। आज शाम छह बजे प्रचार बंद जो जाएगा। इसलिए अंतिम दिन अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच बनाने की कोशिश हो रही है।

मतदाताओं की संख्या पर गौर करें तो इस चुनाव में 3720084 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।ब्लाकवार देखे तो रानी की सराय में 159023, तहबरपुर में 155872, मिर्जापुर में 177932, मुहम्मदपुर में 168485, पल्हनी में 192236, लालगंज में 190060, ठेकमा में 190471, तरवां में 177720, मेंहनगर में 166351, जहानागंज में 138176, सठियांव में 186794, बिलरियागंज में 218949, अजमतगढ़ में 185122, महराजगंज में 158669, हरैया में 173560, फूलपुर में 181504, पवई में 188256, मार्टीनगंज में 176799, कोयलसा में 143540, अतरौलिया में 106754, अहरौला में 175121 तथा पल्हना में 106690 मतदाता है। अभी मतदाता अपनी चुप्पी नहीं तोड़े हैं। मतदाताओं की चुप्पी प्रत्याशियों की टेंशन बढ़ा रही है।

BY Ran vijay singh