कोरोना संक्रमण का खतरा अब 9 से 12 तक के भी सभी स्कूल 11 अप्रैल तक के लिए बंद

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ. कोरोना ( COVID-19 ) संक्रमण की दूसरी लहर तेजी से बढ़ रही है। शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के कारण ( Corona infection effect ) कक्षा 8 तक के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को 11 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया गया था। अब कक्षा 9 से 12 तक के स्कूल बंद होने की आज घोषणा की गई है।

यह भी पढ़ें: 5 साल से कम उम्र के बच्चे का भी बनवाएं Aadhaar Card, स्टेप बाई स्टेप जाने पूरा प्रोसेस

कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए कुछ स्कूलों ने पहले से ही सतर्कता बरतते हुए अवकाश घोषित कर दिए हैं। छात्रों को ऑनलाइन कक्षा देनी शुरू कर दी हैं। कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए अब कक्षा 9 से 12 तक के सभी स्कूल भी 11 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं। शादी समाराेह जैसे कार्यक्रमों के लिए भी नई गाइडलाइन जारी कर दी गई हैं। सभी तरह के समारोह में अब मास्क आवश्यक कर दिया गया है। पुलिस भी अब सार्वजनिक स्थलों पर मास्क की चेकिंग कर रही है।

यह भी पढ़ें: गजब: लेखपाल ने 950 बीघा सरकारी जमीन की अपने रिश्तेदारों के नाम, खुद निकला अकूत संपत्ति का मालिक

डीआईओएस गिरजेश कुमार ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब माध्यमिक शिक्षा विभाग ने कक्षा 9 से 12 तक के सभी सरकारी, सहायताप्राप्त और निजी विद्यालयों को 11 अप्रैल तक बंद करने की सिफारिश है। शासन के निर्देशों के अनुपालन में सभी स्कूलों काे निर्देश जारी कर दिए गए हैं। वेस्ट यूपी के केंद्र मेरठ में भी कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर लगातार अपनी रफ्तार दिखा रही है। शुक्रवार को मेरठ में कोरोना के 75 मरीज मिले थे। गुरुवार को 64 नए रोगी मिले। इस तरह कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 21958 हो गई है।

अलग-अग शहरों में सामने आए कोरोना मरीज

बुलंदशहर में 16, मेरठ में 75, बिजनाैर में 16, सहारनपुर में 20, मुजफ्फरनगर में 43, शामली में 15, हापुड़ में 15, बागपत में 04