देश के नए मुख्य न्यायाधीश बने जस्टिस एनवी रमना, देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिलाई शपथ

एनवी रमना देश में आज नए मुख्य जस्टिस बने है. जस्टिस एनवी रमना देश के 48 वें मुख्य न्यायाधीश बने हैं. आज सुबह 11 बजे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें शपथ दिलाई है. इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, केन्द्रीय कानून मंत्री रवि शंकर प्रसाद और सुप्रीमकोर्ट के कई जजों की उपस्थिति में शपथ समारोह को पूरा किया गया.

जस्टिस एनवी रमना का कार्य करने का समय 16 महीने यानि दो साल से भी कम समय का होगा. आपको बता दें कि जस्टिस एनवी रमना का जन्म 27 अगस्त 1957 को आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले के पोन्नवरम गांव में एक कृषि परिवार में हुआ था. उनका पूरा नाम नथालपति वेंकट रमना है. सिजेआई के रूप में जस्टिस रमना का कार्य करने का समय 26 अगस्त 2022 तक होगा.

इससे पहले एनवी रमना 2 सितंबर 2013 में दिल्ली हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर कार्यभार संभाल रहे थे. जस्टिस रमना ने 10 फरवरी 1983 को वकील के रूप में न्यायिक करियर शुरू किया था. इसके बाद केन्द्र सरकार के भी कई विभागों में वकील के पद पर कार्य किया. फिर 27 जून 2000 को वे आंध्र प्रदेश हाईकोर्ट के स्थायी न्यायाधीश नियुक्त किये गये. जस्टिस रमना अपने कॉलेज के समय में छात्र राजनीति से भी जुड़े हुए थे.