हर बार जीतने वाली किन्नर बाला ने पंचायत चुनाव में कूदकर बढ़ाई प्रत्याशियों की धड़कनें

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुजफ्फरनगर ( Muzaffarnagar ) आखिर वही हुआ जिसका प्रत्याशियाें काे डर था। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव ( panchayat chunav ) के दूसरे चरण के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरू होते ही बाला किन्नर ने मुजफ्फरनगर में अपना नामांकन दाखिल कर दिया। दो बार जीत हांसिल कर चुकी बाला किन्नर ने एक बार फिर से चुनाव मैदान में उतरकर दूसरे प्रत्याशियों की धड़कनें बढ़ा दी हैं। वह इस बार भी जिला पंचायत ( jila panchayat chunav ) सदस्य पद के लिए चुनाव मैदान में उतरी हैं।

यह भी पढ़ें: यूपी पंचायत चुनाव: भाजपा ने जीत के लिए चला दांव, तो सपा-बसपा और कांग्रेस गणित बिगाड़ने को तैयार, आप भी दो कदम आगे

बुधवार काे मुजफ्फरनगर में नामांकन प्रक्रिया शुरू हुई ताे कड़ी सुरक्षा के बीच जिला पंचायत सदस्य पद के लिए जिला कलेक्ट्रेट में नामांकन पत्र दाखिल किए गए। जिले के सभी 9 विकास खंड कार्यालय पर प्रधान पद व ग्राम पंचायत सदस्य और बीडीसी पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किए गए। इस तरह पहले ही दिन जिले में 500 से भी ज्यादा नामांकन पत्र दाखिल हुए। यह प्रक्रिया गुरुवार कल तक चलेगी। यानी चुनाव मैदान में उतरने वाले लोगों को नामांकन के लिए केवल दाे दिन ही मिलेंगे।

यह भी पढ़ें: पंचायत चुनाव - सावधान, इन दो स्थानों के बकायेदार हैं तो हो जाएगा पर्चा निरस्त!

नामांकन प्रक्रिया शुरू हाेते ही यहां प्रत्याशियाें की नजर बाला किन्नर पर थी और वही हुआ जिसका अन्य प्रत्याशियों काे डर था। नामांकन प्रक्रिया शुरू हाेते ही बाला किन्नर कलेक्ट्रेट पहुंची और जिला पंचायत सदस्य पद के लिए एक अपना नामांकन दाखिल कर दिया। दरअसल, दाे बार लगातार जीत हांसिल करने वाली बाला ने अब तीसरी बार जिला पंचायत सदस्य पद के लिए नामांकन पत्र दाखिल किया है। इससे पहले वह दो बार वार्ड 45 से जिला पंचायत सदस्य रह चुकी हैं।

यह भी पढ़ें: महिला सीट के लिये खरमास में करा दी बेटे की शादी, घूंघट की आड़ में वोट मांग रही दुल्हन

( Panchayat election ) बाला किन्नर का दावा है कि उन्होंने अपने वार्ड में रिकॉर्ड तोड़ विकास कराया जिसकी वजह से जनता ने उन्हे दाेबारा अपना नेता चुना। मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए किन्नर बाला ने विश्वास जताया कि वह तीसरी बार भी जिला पंचायत बोर्ड में पहुंचेगी। बाला ने कहा कि वह जनता की कसौटी पर खरा उतरती हैं इसलिए जनता ने उन्हें दो बार जिला पंचायत सदस्य चुना है और तीसरी बार भी चुनाव मैदान में उतर रही हैं। बाला किन्नर को राष्ट्रीय लोकदल ने अपना प्रत्याशी बनाया है। पहले भी वह दो बाद राष्ट्रीय लोकदल से ही जीत कर जिला पंचायत बोर्ड की सदस्य रही हैं।