कमाल का है ये तरीका : एक मिनट में बढ़ जाएगी पंखे की रफ्तार और घट जाएगा बिजली बिल

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

सहारनपुर. पंखा हवा नहीं दे रहा, वोल्टेज ठीक है लेकिन फिर भी रफ्तार कम सी लग रही है। क्या गर्मियां आते ही आपके घर में भी यह सवाल किया जाता है ? यदि आपका जवाब हां में है ताे यकीनन आप इस सवाल का जवाब भी अभी तक नहीं तलाश नहं पाएं हाेंगेे।

यह भी पढ़ें: आजकल क्यों लग रहे हैं कुछ भी छूने से बिजली जैसे करंट के झटके ? एक्सपर्ट से जानिए वजह

अगर आपके घर या ऑफिस में लगे पंखे की हवा कम हाे गई है ताे परेशान ना हों। आज हम आपकाे एक ऐसा तरीका electricity bill tips बताने जा रहे हैं जिसमें आपका एक रुपया भी खर्च नहीं हाेगा और आपके पंखे की हवा के साथ-साथ उसकी रफ्तार भी बढ़ जाएगी। इतना ही नहीं आपका बिजली बिल electricity bill rate भी कम हाे जाएगा।

आईये जानते हैं कि पंखे की रफ्तार और हवा कैसे कम हाे जाती है

दरअसल काेई भी पंखा कम दाब उत्पन्न करके हवा का प्रवाह बनाता है। यह पूरी प्रकिया हवा काे काटने और उसे एक दिशा में धकेलने का काम करती है है। इसीलिए पंखे के ब्लेड का अगला हिस्सा काफी नुकीला और घुमावदार बनाया जाता है। पंखे के ब्लेड हवा काे ताे काट देते हैं लेकिन हवा में माैजूद धूल-मिट्टी के कण उसके अग्र भाग यानि नुकीले हिस्से पर जम जाते हैं। जैसे-जैसे यह धूल-मिट्टी के कण पंखे की पंखड़ियों के अगले हिस्से पर जमा होते रहते हैं वैसे-वैसे पंखा भारी चलने लगता है और वह ठीक से हवा नहीं काट पाता। ऐसे में पंखे की मोटर पर लोड़ पड़ने लगता है। उसकी रफ्तार कम हाे जाती है और हवा कम देने के साथ-साथ वह मोटर पर लोड़ बढ़ने की वजह से पंखा अधिक बिजली की खपत करने लगता है जिसका सीधा असर बिजली बिल Electricity bill पर पड़ता है। यह सिद्धांत सभी तर के पंखों पर लागू हाेता है। चाहे वह छत का पंखा हाे, टेबिल फैन हो, कूलर हो या फिर आपके एसी ब्लोअर। इन सभी पर धूल जमने के बाद रफ्तार और हवा दोनों ही कम हाे जाते हैं।

एक मिनट में ऐसे में बढ़ाएं पखें की रफ्तार और हवा

पंखे की रफ्तार और हवा बढ़ाने का यह तरीका बिल्कुल आसान है। इसके लिए आपकाे किसी मैकेनिक या फिर अतिरिक्त उपकरण की आवश्यकता नहीं है। सबसे पहले पंखें काे बंद कर दीजिए और फिर ध्यान से देखिए कि उसकी पंखुड़ियों ( ब्लेड ) के अग्र भाग भर काफी कीट जमा हाे गया हाेगा। अब आपकाे एक गीले कपड़े से पंखे की पंखड़ियों की साफ करना है। मुख्य रूपसे अग्र भाग जहां पर कीट जमा है उसे साफ करना है। इस दाैरान यह ध्यान रखना हाेगा कि पंखुड़ियों पर दबाव नहीं पड़ना चाहिए। दबाव पड़ने से वह मुड़ जाएंगी और पंखे का अलाइनमेंट बिगड़ जाएगा। इसलिए बिना दबाव दिए आपकाें धीरे-धीरे पंखड़ियाें काे साफ करना है। पंखड़ियों के साफ हाेने के बाद दाेबारा से जब आप पंखें को ऑन करेंगे ताे आप पाएंगे कि पंखे की रफ्तार और हवा दोनों बढ़ी हुई होंगी और शोर भी कम हाे जाएगा। ऐसा करने से पंखे से मोटर पर भी कम लोड़ पड़ेगा जिससे बिजली का बिल भी कम reduce electricity bill हाे जाएगा।