यूपी बोर्ड परीक्षा में कोरोना संक्रमित छात्रों के लिए खास इंतजाम, जानें क्या है नियम

लखनऊ. यूपी बोर्ड (UP Board) परीक्षा 8 मई से शुरू हो रही है। लेकिन कोरोना के साए में होने वाली बोर्ड परीक्षा से छात्र और अभिभावक परेशान हैं। हालांकि, उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए बोर्ड स्तर पर तैयारी की गई है। इसके मुताबिक संक्रमित परीक्षार्थी को अलग कमरे में बैठाकर परीक्षा दिलाई जाएगी। यूपी बोर्ड परीक्षा कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार आयोजित कराई जाएगी। परीक्षा केंद्र में हर बच्चे के लिए 'दो गज की दूरी और मास्क है जरूरी' के नियम का पालन करना अनिवार्य होगा। यूपी बोर्ड के सचिव दिव्यकांत शुक्ला का कहना है कि परीक्षा के दौरान सभी एहतियाती कदम उठाए जाएंगे। किसी परीक्षार्थी के संक्रमित होने पर उसके लिए अलग बैठने की व्यवस्था करेंगे और डॉक्टर की भी मदद लेंगे। हालांकि इस संबंध में शासन के निर्देशों का इंतजार है।

चुनाव के कारण टली परीक्षा

उत्तर प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के चलते बोर्ड परीक्षा की तारीखों को आगे बढ़ा दिया गया है। माध्यमिक शिक्षा परिषद बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड की परीक्षाएं 8 मई से शुरू होंगी। हाईस्कूल की परीक्षा 25 मई और इंटरमीडिएट की परीक्षा 28 मई को समाप्त होगी। इस बीच संक्रमित बच्चे की सुरक्षा को लेकर भी खास इंतजाम किए गए हैं। बोर्ड ने तय किया है कि अगर परीक्षा के दौरान या इससे पहले किसी बच्चे के संक्रमित होने की पुष्टि होती है, तो इसके लिए अलग से डॉक्टर का इंतजाम किया जाएगा। साथ ही बच्चे के अलग कमरे में बैठाकर परीक्षा दिलवाई जाएगी।

परीक्षा में शामिल होने वाले अभयर्थी

इस बार कुल 56,03,813 विद्यार्थी परीक्षा देंगे। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षा के लिए कुल 56,03,813 विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है। इसमें हाइस्कूल के 29,94,312 और इंटरमीडिएट के 26,09,501 परीक्षार्थी सम्मिलित होंगे। दोनों परीक्षाओं में कुल 31,47,793 बालक और 24,56,020 बालिकाएं पंजीकृत हैं। हाईस्कूल परीक्षा में 16,74,022 बालक व 13,20,290 बालिकायें पंजीकृत हुई हैं। इसी तरह इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षा में 14,73,771 बालक व 11,35,730 बालिकायें कुल 26,09,501 परीक्षार्थी पंजीकृत हुए हैं।

ये भी पढ़ें: यूपी बोर्ड परीक्षार्थियों का रोल नंबर होगा खास, इस बार किया गया ये बदलाव

ये भी पढ़ें: होमगार्ड भर्ती को शासन की हरी झंडी, पंचायत चुनाव खत्म होते ही शुरू होगी भर्तियां