बूथ पर बवाल, पत्नी को प्रधानी लड़ा रहे पति ने समर्थकों के साथ मिलकर मचाया तांडव, पुलिस पर लाठी से हमला

सुलतानपुर. UP Panchayat Chunav. यूपी पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में हुए मतदान में पत्नी को प्रधानी लड़ा रहे सफाईकर्मी पति ने समर्थकों के साथ मिलकर तांडव किया। अपनी पत्नी के पक्ष में वोट डालने के लिए उसने बूथ पर हंगामा किया। इस बीच पुलिस टीम और समर्थकों के बीच कहा सुनी हो गई। विवाद में लाठी डंडे भी चले। इस दौरान एक सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गया। उसके सिर से खून बहने लगा। मामले में 100 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। यह घटना सुलतानपुर के लंभुआ ब्लाक के बरुआ उत्तरी ग्राम सभा की है।

बूथ पर बवाल

जिले के लंभुआ ब्लाक के बरुआ उत्तरी ग्राम सभा में सफाईकर्मी भोलानाथ निषाद अपनी पत्नी रीता देवी को प्रधानी का चुनाव लड़ा रहा है। आरोप है कि बूथ कैप्चरिंग की नीयत से सोमवार शाम करीब छह बजे के आसपास लाव लश्कर लेकर वह बूथ में घुस गया। उसके समर्थकों के हाथों में लाठियां ली हुई थीं। बूथ के अंदर घुसते ही भोलानाथ और उसके समर्थकों ने वहां मौजूद पुलिस पर लाठी डंडे से हमला कर दिया। काफी संख्या में लोग लाइन में लगे थे, इस बीच ही भोलानाथ ने अपने समर्थकों संग मिलकर यह हमला किया। इस बीच एक सिपाही को चोट लग गई और उसके सिर से खून बहने लगा। बावजूद इसके उसने हिम्मत नहीं हारी और सिर पर गमछा बांध कर भोलानाथ का सामना किया।

निर्वाचन कर्मचारियों को बनाया बंधक

हमले को लेकर विवाद बढ़ गया। सूचना पाते ही भारी पुलिस फोर्स पहुंची और फोर्स ने हल्का बल प्रयोग किया। एसपी विपिन मिश्रा ने कहा कि थाना चांदा क्षेत्र के बरुआ उत्तरी बूथ पर शाम छह बजे के बाद कुछ प्रत्याशी अपने-अपने मतदाताओं को लेकर वोट डलवाने आए थे, जिसे पोलिंग पार्टी ने मना किया। इससे ये लोग पोलिंग प्रार्टी से उलझ गए। पुलिस मौके पर पहुंचकर लोगों को तितर-बितर कर रही थी कि आरक्षी संतकुमार वर्मा पर कुछ लोग हमलावर हो गए। हमलावरों में से किसी ने पत्थर चलाया, जिससे आरक्षी संतकुमार को चोटें आई हैं। आरक्षी को प्राथमिक उपचार के लिए सीएचसी चांदा भेजा गया।

ये भी पढ़ें: गांव की सरकार बनाने में पुरुषों से ज्यादा एक्टिव महिलाएं, 67.08 फीसदी ने किया मतदान

ये भी पढ़ें: पंचायत चुनाव से पहले खूनी खेल, प्रधान प्रत्याशी और समर्थकों को मारी गोली