मरीजों को उपलब्ध होगी ऑक्सीजन, औद्योगिक इकाइयों के लिए रोक

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
आगरा। कोविड 19 के संक्रमण से जहां फेंफड़े कमजोर पड़ रहे हैं। ऐसे में अस्पतालों के अंदर आॅक्सीजन की डिमांड बढ़ गई है। आॅक्सीजन के अभाव में तमाम लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। ऐसे में आगरा में आॅक्सीजन की किल्लत को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा शहर की औद्योगिक इकाइयों के लिए फिलहाल ऑक्सीजन की आपूर्ति पर रोक लगा दी है। अधिकारियों का कहना है कि पहले मरीजों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जाएगी। शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में ऑक्सीजन इकाइयों को 24 घंटे बिजली मिलेगी।
यह भी पढ़ें—

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के चलते 18 से 25 अप्रैल तक भगवान द्वारिकाधीश मंदिर बंद

ऑक्सीजन के लिए भटक रहे परिजन
कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन प्राप्त करने के लिए मरीजों के परिजन भटक रहे हैं। फिर भी उन्हें ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही। निजी अस्पतालों में इसकी भारी कमी है। डीएम प्रभु एन. सिंह ने रविवार को औद्योगिक काइयों के लिए ऑक्सीजन आपूर्ति पर प्रतिबंध लगा दिया है। उन्होंने कहा कि औद्योगिक इकाइयों में आपूर्ति के कारण अस्पतालों व मरीजों को पर्याप्त ऑक्सीजन गैस उपलब्ध नहीं हो पा रही। इन इकाइयों को गैस आपूर्ति करने वाले सभी सप्लायर अब सिर्फ अस्पतालों में आपूर्ति करेंगे। इसके लिए उन्हें प्रशासन ने अनुमति प्रदान की है।
डीएम ने बताया कि सिलिंडर व तरल ऑक्सीजन इकाइयों को 24 घंटे विद्युत आपूर्ति के लिए दो अधिकारी नामित किए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में ऐसी इकाइयों को 24 घंटे विद्युत आपूर्ति के लिए दक्षिणांचल विद्युत वितरण निगम (डीवीवीएनएल) के मुख्य अभियंता और शहरी क्षेत्र में टोरेंट पावर महाप्रबंधक को आदेश दिए हैं। ऐसा होने से अस्पतालों में पर्याप्त ऑक्सीजन मिलेगी और लोगों की जान बचाई जा सकेगी।