चुनावी मैदान में यादव मुलायम परिवार की बहू, सैफई बीडीसी सीट से भरा नामांकन

इटावा. उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव (Panchayat Chunav) का बिगुल बजने के साथ ही नामांकन प्रक्रिया भी शुरू हो चुकी है। सभी प्रत्याशी नामांकन प्रक्रिया दाखिल करने में लगे हैं। इसी फेहरिस्त में सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव के भतीजे की पत्नी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की समधन मृदुला यादव का नाम भी शामिल हो गया है। उन्होंने बीडीसी पग पर निर्विरोध निर्वाचन के लिए नामांकन किया है। इस सीट पर लगातार 25 वर्षों से यादव परिवार का ही कब्जा रहा है। वर्ष 1995 में जब सैफई को ब्लॉक का दर्जा मिला था, तब मुलायम सिंह यादव के भतीजे रणवीर सिंह इस ब्लॉक प्रमुख सीट पर काबिज हुए थे। इस बार मुलायम के भतीजे की पत्नी मृदुला यादव ने सैफई बीडीसी चुनाव लड़ने के लिए नामांकन किया है।

सैफई ब्लॉक सीट यादव परिवार के लिए कई मायनों में अहम मानी जाती है। करीब 25 साल से इस सीट पर यादव परिवार का कब्जा रहा है। मृदुला यादव निवर्तमान ब्लॉक प्रमुख हैं और दूसरी बार चुनाव मैदान में उतरी हैं। इससे पहले सैफई ब्लॉक की सीट बदायूं से पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव इसी सीट से जीतकर राजनीति में आगाज किया था। उसके बाद मैनपुरी से पूर्व सांसद और मुलायम के नाती तेज प्रताप सिंह ने भी इसी सीट से जीतकर अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत की थी। तेज प्रताप के मैनपुरी से सांसद निर्वाचित होने के बाद यह ब्लॉक उनकी मां मृदुला यादव ने संभाला। मृदुला ने सैफई क्षेत्र पंचायत के वार्ड संख्या 20 से अपना नामांकन दोबारा दाखिल किया है। इस सीट पर मुलायम सिंह के परिवार के सदस्य ब्लॉक प्रमुख ही बनते आए हैं।

ये भी पढ़ें: पंचायत चुनाव के प्रचार में सख्ती, राजधानी में लागू हुई धारा 144

ये भी पढ़ें: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में सरकार ने की मोटी कमाई, एनओसी बनवाने के लिए प्रत्याशियों को देने पड़े इतने रुपये