राकेश टिकैत को फिर मिली जान से मारने की धमकी, पुलिस ने मामला दर्ज जांच शुरू की

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

गाजियाबाद। दिल्ली-यूपी बॉर्डर पर चल रहे किसानों के धरने की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत को एक बार फिर फोन पर जान से मारने की धमकी मिली है। जिसके चलते टिकैत ने कौशांबी थाने में तहरीर दी है। वहीं पुलिस ने तहरीर के आधार पर मामला दर्ज करते हुए साइबर सेल की टीम को मामला सौंपा है। दरअसल, कृषि कानूनों को वापस किए जाने की मांग को लेकर बड़ी संख्या में किसान 28 नवंबर 2020 से धरने पर बैठे हुए हैं। इसकी अगुवाई राकेश टिकैत के द्वारा की जा रही है। टिकट ने 26 दिसंबर को कौशांबी थाने में तहरीर दी थी कि अज्ञात शख्स के द्वारा उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी दी गई है। तब पुलिस जांच में आरोपी बिहार का पाया गया था। अभी यह मामला शांत भी नहीं हुआ था कि एक बार फिर से उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी मिली है।

यह भी पढ़ें: महापंचायत में भाकियू अध्यक्ष ने दिखाया बड़ा दिल, बोले- हमलावरों के खिलाफ ना करें कोई कार्रवाई

राकेश टिकैत के करीबी विपिन कुमार ने बताया कि पिछले कई दिनों से भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत को एक मोबाइल नंबर से वाट्सएप कॉल और धमकी भरे संदेश आ रहे हैं। मोबाइल फोन पर कॉल करने वाला उनके साथ अभद्रता व गाली-गलौज कर रहा है। इतना ही नहीं, फोन करने वाले शख्स ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी है। पिछली बार हुई बातचीत के दौरान राकेश टिकैत ने उसे काफी समझाने का प्रयास किया। इस पर उस शक्स ने राकेश टिकट पर गालियों की बौछार करते हुए उन्हें जान से मारने की धमकी दी है। इसकी जानकारी मिलने पर उन्होंने कौशांबी थाने में मोबाइल नंबर के आधार पर शिकायत दी है। शिकायत के आधार पर मामले में रिपोर्ट दर्ज हुई है।

यह भी पढ़ें: किसान आंदोलन: देशभर की मिट्‌टी से गाजीपुर बॉर्डर पर बनाया शहीद स्मारक

इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए एसपी द्वितीय ज्ञानेंद्र सिंह ने बताया कि भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के द्वारा थाना कौशांबी में एक तहरीर दी है। जिसमें बताया है कि कोई शख्स उन्हें फोन पर जान से मारने की धमकी दे रहा है। तहरीर के आधार पर मामला दर्ज करते हुए पूरा मामला साइबर सेल टीम को सौंप दिया गया है। जो भी तथ्य सामने आएंगे उसके आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।