कोरोना संक्रमण: लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएगा उद्यान विभाग

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मेरठ। कोरोना संक्रमण की बढ़ती दूसरी लहर के बीच अब उद्यान विभाग लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करेगा। इसके तहत आम लोगों को उद्यान विभाग के लोग घर और गमले में ही हरी सब्जियों को लगाने के लिए जागरूक कर रहे हैं। इन हरी सब्जियों में पालक,लौकी,तोरी,चौलाई, मूली,सेम, लोबिया, मेथी शामिल हैं। उद्यान विभाग के कर्मचारी मेरठवासियों को घर में सब्जियों की खेती के लिए जागरूक कर रहे हैं। जो लोग जागरूक हो रहे हैं उनको विभाग से सब्जियों के उन्नत प्रजाति के शोधित बीज प्राप्त करने के लिए बीज भंडारों पर पैसे खर्च नहीं करने पड़ेंगे। उद्यान विभाग इसके लिए मुफ्त में 10 तरह की सब्जियों का बीज उपलब्ध कराएगा। विभाग के विशेषज्ञ समय-समय पर सब्जी की फसल का निरीक्षण कर लोगों को बेहतर फसल प्राप्ति के टिप्स भी देते रहेंगे।

यह भी पढ़ें: चौथे फेज का वैक्सीनेशन शुरू, अब इन लोगों को लगाई जाएगी कोरोना वैक्सीन

मेरठ के जिला उद्यान अधिकारी आरएस राठौर ने बताया कि बाजार में बिकने वाली हाइब्रिड प्रजाति की सब्जियों को खरीदने के लिए लोगों को जेब से रुपये खर्च होते हैं। वहीं इन सब्जियों में वह पौष्टिकता भी नहीं मिल रही। रोजाना 150 से 200 रुपये खर्च भी करने पड़ रहे हैं। ऐसे में उन्होंने यह पहल की है। जिसके तहत विभाग लोगों को सब्जियों की खेती के लिए प्रोत्साहित कर रहा है। कोरोना काल में सब्जियों की कीमत काबू में आने का नाम नहीं ले रही है। ऐसे में महीने का बजट गड़बड़ा जा रहा है। इस बजट को संभालने के लिए भी उद्यान विभाग ने इससे राहत दिलाने की पहल की है।

यह भी पढ़ें: कक्षा 9 से 12 तक के स्कूलों को लेकर बड़ी खबर, 11 अप्रैल तक के लिए बंद रहेंगे सभी स्कूल

आरएस राठौर का कहना है कि लोग चाहें तो अपने घर-आंगन में किचन गार्डेन उगा सकते हैं। इसके लिए उन्नत प्रजाति का बीज खरीदने के लिए चक्कर नहीं काटने होंगे। उद्यान विभाग भारतीय सब्जी अनुसंधान परिषद की ओर से विकसित की गईं 10 प्रकार की सब्जियों का शोधित व उन्नत प्रजाति का बीज मुफ्त में उपलब्ध कराएगा। उद्यान विभाग की ओर से जिले में हजारों लोगों को सब्जी का बीज वितरित किया जा चुका है। पैकेट में लौकी, तोरी, पालक, चौराई, सेम, मूली, करेला, मेथी समेत 10 तरह की सब्जियों के बीज अलग-अलग पाउच में रखे गए हैं। बाजार से खरीदने के लिए लोगों को लगभग 150 रुपये कीमत चुकानी पड़ेगी। विभाग की ओर से लोगों को मुफ्त में सब्जी के बीज का वितरण किया जा रहा है। लोग घर में किचन गार्डेन बना सकते हैं। इससे शुद्ध व ताजी सब्जियां मिलेंगी। वहीं पैसे भी बचेंगे।