कैंडल मार्च निकालकर मासूम दक्ष के हत्यारों को फांसी पर लटकाने की मांग

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
ग्रेटर नोएडा. दादरी कोतवाली स्थित वेद विहार कॉलोनी में रहने वाले मुनेंद्र लोहिया के साढ़े तीन साल के बेटे दक्ष लोहिया का 31 मार्च को घर के बाहर से अगवा कर हत्या की गई थी। पांच दिन बाद मासूम का शव बुलंदशहर स्थित नहर में पड़ा मिला था। मासूम बच्चे के अपराहण कर उसकी हत्या करने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर मृतक के परिजन और सैकड़ों लोगों ने एकत्र होकर मृतक दक्ष के समर्थन में कैंडल मार्च निकाला और अपना विरोध भी दर्ज कराया। इस दौरान कस्बे में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था।

यह भी पढ़ें- पुरानी रंजिश में दबंगों ने परिवार पर ढाया कहर, जानलेवा हमले में दो सगे भाई समेत बहन घायल

मासूम दक्ष को न्याय दिलाने के लिए लोगों ने मंगलवार शाम को कैंडल मार्च निकाला। हाथों में मोमबत्ती लेकर सड़क पर उमड़े लोगों के हुजूम ने एक स्वर में हत्यारों को फांसी देने की मांग की। बता दें कि 200 से अधिक लोग देर शाम को दक्ष के घर पर एकत्र हुए। इसके बाद रेलवे रोड से कैंडल मार्च निकालकर कस्बे के तिराहे पर पहुंचे। लोगों के हाथों में कैंडल और दक्ष को न्याय दीजिए के पोस्टर थे। कैंडल मार्च के दौरान पुलिस ने रेलवे रोड का एक तरफ का यातायात रूकवा दिया। कैंडल मार्च के अंत में राव उमराव सिंह की प्रतिमा के पास मौन धारण किया गया। रेलवे रोड पर लोगों की भीड़ की वजह से काफी देर तक जाम की स्थिति बनी रही है। इस दौरान एडिशनल डीसीपी विशाल पांडेय, एसीपी नितिन सिंह भारी फोर्स साथ मौजूद रहे।

ज्ञात हो कि बीती 31 मार्च को दक्ष का अपहरण कर उसकी हत्या कर बुलंदशहर की गंग नहर में फेंक दिया गया था। इसके बाद मृतक के परिजनों के साथ सैकड़ों ग्रामीणों ने दादरी सूरजपुर रोड पर जाम लगा दिया था, लेकिन कई दिन बीतने के बावजूद भी आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है। जिसके विरोध में शांतिपूर्ण कैंडल मार्च निकाला गया।

यह भी पढ़ें- यूपी में लग सकता है नाईट कर्फ्यू, हाईकोर्ट ने सरकार को दिए यह निर्देश