कुम्भ की तुलना मरकज से करने वालो को संबित पात्रा ने दिया करारा जवाब

अभी आपको मालूम ही होगा कि कुम्भ का आयोजन हुआ है और इस दौरान करोना की दूसरी लहर भी चल रही है तो भीड़ इकठ्ठा होने के कारण कुछ एक चीजे गलत हुई है लेकिन उनको सुधारते हुए कुम्भ को अब लगभग खत्म सा ही कर दिया गया है और प्रतीकात्मक रूप से इसे मनाया जा रहा है. खुद पीएम मोदी ने इस पर अपील की थी, लेकिन अब कुछ लोग इसी कुम्भ की तुलना मरकज के साथ में कर रहे है जिसकी तबलीगी जमात के कारण पिछले वर्ष देश में काफी संक्रमण फैला था. इन लोगो पर संबित पात्रा काफी अधिक नाराज हुए है.

संबित पात्रा बोले, मरकज की तुलना कभी सनातन धर्म से हो ही नही सकती
संबित पत्रा हाल ही में एक डिबेट शो में पहुंचे थे जहाँ पर बार बार मरकज और कुम्भ की आपस में तुलना होते हुए देखकर के उनका गुस्सा सातवे आसमान पर पहुँच गया. उन्होंने इस पर कहा कि मरकज और सनातन धर्म की तो कभी तुलना हो ही नही सकती है. कुछ लोग है जो इन दोनों की तुलना कर रहे है जो कभी हो ही नही सकता है, हमारे लिए तो प्रतीक में ही ईश्वर है, आप स्नान करे या फिर न करे लेकिन आपके अन्दर ईश्वर मौजूद है.

वही कुम्भ की समाप्ति के ऊपर पात्रा जी ने कहा कि अभी आप सही कह रहे है इसलिए मैं जो कहूँगा बड़े ध्यान से कहूँगा, हम लोग साधुओ से अपील कर रहे है और बड़े ही विवेकपूर्ण तरीके से चर्चा भी कर रहे है. जो भी होगा उसका नतीजा मंगलमाय ही निकलेगा और ये मैं कह सकता हूँ कि मेले में भीड़ नही होगी.

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा यहाँ पर कुम्भ और सनातन की आस्था को बहुत ही अच्छे सी डिफेंड करते हुए नजर आये है और लोग भी इस पर कई सारे है जो अपने अपने हिसाब से रियेक्ट कर रहे है, कोई उनके पक्ष में है तो कईयो को उनकी बात गलत लग रही है.